Corona Alert: CM उद्धव ठाकरे की बढ़ सकती है परेशानी, टास्क फोर्स ने कहा-अगले 2 से 4 सप्ताह में आ सकती है तीसरी लहर - Naya India
कोविड-19 अपडेटस | ताजा पोस्ट | देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया|

Corona Alert: CM उद्धव ठाकरे की बढ़ सकती है परेशानी, टास्क फोर्स ने कहा-अगले 2 से 4 सप्ताह में आ सकती है तीसरी लहर

मुंबई | देश में एक ओर लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या घट रही है. इसे देखते हुए राज्यों में अब लॉकडाउन पर भी छूट दी जाने लगी. लेकिन महाराष्ट्र से एक बार फिर से डराने वाली खबर सुनने को मिली है. महाराष्ट्र में कोरोना नियंत्रण और रोकथाम के लिए बनाए गए टास्क फोर्स ने अंदेशा लगाया है कि अगले दो से 4 हफ्तों में कोरोना की तीसरी जगह आ सकती है . टास्क फोर्स का कहना है कि तीसरी लहर में कुल मामलों की संख्या दूसरी लहर के एक्टिवेशन केस से भी दोगुनी हो सकती है. इसके साथ ही फोर्स का यह भी मानना है कि तीसरी लहर में महाराष्ट्र में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 80 लाख तक पहुंच सकती है जिसमें से 10% युवा और बच्चे हो सकते हैं.

बच्चों के प्रभावित होने की सूचना नहीं

टास्क फोर्स के इस अनुमान के बाद एक बार फिर से महाराज से सरकार हरकत में आ गई है. हालांकि राहत वाली बात यह है कि इस रिपोर्ट में यह नहीं कहा गया है कि कोरोना की तीसरी लहर से बच्चे ज्यादा प्रभावित होने वाले हैं. इसके विपरीत रिपोर्ट में कहा गया है कि तीसरी लहर का कोई खास प्रभाव बच्चों पर नहीं पड़ेगा. बता दें कि महाराष्ट्र में भी कोरोना के मामलों में कमी आने के बाद लॉकडाउन में कुछ छूट दी गई है. अभी भी महाराष्ट्र में पूरी तरह से अनलॉक की घोषणा नहीं की गई है. ऐसे में एक बार फिर से टास्क फोर्स द्वारा पेश किए गए इस रिपोर्ट से महाराष्ट्र में हड़कंप मच सकता है.

इसे भी पढ़ें – वैक्सीनेशन फर्जीवाड़ा, आजमगढ़ में एक दंपति के आधार पर पहले ही किसी ने लगवाई वैक्सीन

टीकाकरण पर देना होगा जोर

बता दें कि टास्क फोर्स ने अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के सामने पेश की है . रिपोर्ट देखने के बाद उद्धव ठाकरे ने भी राज्य के लोगों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने की अपील की है. इसके साथ ही बैठक में सीएम ठाकरे ने कहा है कि जल्द से जल्द लोगों को कोरोना का टीका दिया जाना चाहिए. उन्होंने वैक्सीनेशन पर जोर देते हुए कहा कि राज्य के स्वास्थ्य कर्मियों को युद्ध स्तर पर टीकाकरण करना होगा इसी से बचाव संभव हो सकेगा.

इसे भी पढ़ें- किसान आंदोलन : प्रदर्शन स्थल पर साथ में बैठ कर पी शराब, हुआ विवाद तो तेल छिड़ककर जला दिया जिंदा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
बिहार में विपक्ष की तमाम कोशिशों के बाद भी आंदोलन से नहीं जुडे किसान!
बिहार में विपक्ष की तमाम कोशिशों के बाद भी आंदोलन से नहीं जुडे किसान!