what is norovirus : कोरोना वायरस से बोर हो गये तो मिलिये नोरोवायरस से, आइये जानते है इसके लक्षण और रोकथाम के उपाय..
कोविड-19 अपडेटस | लाइफ स्टाइल| नया इंडिया| what is norovirus : कोरोना वायरस से बोर हो गये तो मिलिये नोरोवायरस से, आइये जानते है इसके लक्षण और रोकथाम के उपाय..

कोरोना वायरस से बोर हो गये तो मिलिये नोरोवायरस से, आइये जानते है इसके लक्षण और रोकथाम के उपाय..

what is norovirus

वर्ष 2020 में आया कोरोना वायरस आजतक सभी के लिए परेशानी बना हुआ है। लाखों लोगों की जिंदगी तबाह करने के बाद भी यह जाने का नाम नहीं ले रहा है। पूरी दुनिया के लोग अभी भी कोरोना के भय से बाहर नहीं आ पाएं है कि एक और वायरस ने हमारी जिंदगी में दस्तक दे दी है। हाल ही में खबरों के हवाले से पता चला है कि नोरोवायरस नाम का एक वायरस ने दस्तक दी है। कहा जा रहा है कि नोरोवायरस, कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक है। सबसे अधिक डराने वाले नोरोवायरस के मामले नर्सरी और चाइल्‍ड केयर सेंटर्स पर मिल रहे है। इस वायरस के केस उन जगहों पर मिल रहे है जहां बच्चों की संख्या ज्यादा है। नोरोवायरस बच्चों पर आक्रमण कर रहे है। नोरोवायरस ने डॉक्टरों और वैज्ञानिकों की चिंता को दोगुना कर दिया है। ( what is norovirus ) इस वायरस को उल्टी बग के रूप में जाना जाता है। इससे पहले कोरोना के बदलते स्वरूपों ने भी सभी को डरा रखा है। डेल्टा वैरिएंट, कप्पा और गामा नाम के इन स्वरूपों ने सभी को चिंतित कर रखा है। भारत में डेल्टा वैरिएंट को लेकर चिंताएं बढ़ी हुई है। डेल्टा के मामले ज्यादा संख्या में देखने को मिल रहे है। कोरोना के मामले फिर से बढ़ते हुए तीसरी लहर का अनुमान लगया जा रहा है। जिका अंदेशा वैज्ञानिकों ने बहुत पहले ही दे दिया था। लेकिन अब ये नोरोवायरस नया वायरस आया है। आइए जानते हैं आखिर क्या है यह नोरोवायरस, इसके लक्षण और बचाव के उपाय।

also read: अस्पताल के बाहर ऑक्सीजन के लिए तड़पते मरीज और सरकार का कहना ऑक्सीजन की कमी के कारण एक भी मौत नहीं..

क्या है नोरोवायरस ( what is norovirus )

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) की तरफ से कहा गया है कि नोरोवायरस, कोरोना वायरस से कहीं ज्यादा हानिकारक है। ज्यादा खतरनाक होने के कारण इस वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता है। जो भी व्‍यक्ति इस वायरस से संक्रमित है उसमें उल्‍टी और डायरिया जैसे लक्षण दिखााई देते हैं। इस वायरस से ज्यादा संक्रमित हो रहे है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के मुताबिक नोरोवायरस एक बहुत ही संक्रामक वायरस है जो उल्टी और दस्त का कारण बनता है।( what is norovirus ) इससे पीड़ित व्यक्ति काफी संख्या में दूसरों को भी बीमार कर सकता है। क्योंकि यह कम्युनिकेबल डिजीज (संक्रामक बीमारी) यानि एक से दूसरे को फैलने वाली बीमारी की श्रेणी में आती है। नोरोवायरस को ‘वोमेटिंग बग’ के रूप में भी जाना जाता है।

नोरोवायरस के लक्षण

– डायरिया, उल्‍टी, सिर चकराना और पेट में तेज दर्द होना सबसे अहम लक्षण हैं। ( what is norovirus )

– इसके अलावा बुखार, सिरदर्द और बदन दर्द भी कई मरीजों में देखा गया है।

– वायरस के शरीर में दाखिल होने के अंदर 12 से 48 घंटे में ही संक्रमण फैल जाता है।

– वायरस से संक्रमित व्‍यक्ति को 2 से 3 हफ्ते तक उल्‍टी होती है।

कोरोना की तरह ही करता है संक्रमित

सीडीसी का कहना है कि नोरोवायरस कोई एक वायरस नहीं है इसमें कई अरब वायरस होते हैं। ( what is norovirus  ) कोई भी व्‍यक्ति अगर नोरोवायरस से संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आता है, संक्रमित खाना खाता है, वायरस से प्रभावित सतह को छूता है या बिना हाथ धोएं मुंह में डाल लेता है, उसे इस वायरस से संक्रमित होने का खतरा ज्यादा है। ये वायरस दूसरे वायरस की ही तरह शरीर में दाखिल होकर उसे संक्रमित करता है।

ऐसे करें बचाव ( what is norovirus )

साफ-सफाई रखकर काफी हद तक नोरोवायरस से सुरक्षित रहा जा सकता है।( what is norovirus ) नोरावायरस का संक्रमण खाने-पीने की चीजों से भी फैल सकता है। सीडीसी के मुताबिक इस बीमारी से बचने के लिए यह बहुत जरूरी है कि कुछ भी छूने के बाद, बाहर से आने पर और कुछ खाने से पहले हमेशा अपने हाथों को ठीक से धोएं। इसके अलावा जिस तरह से कोविड-19 से बचने के लिए सैनिटाइजर का प्रयोग लोग कर रहे हैं, उसी तरह से इसके लिए भी एल्‍कोहल बेस्‍ड सैनिटाइजर का प्रयोग करना बेहतर रहेगा। जो बचाव हम कोरोना वायरस को हराने में कर रहे वो ही बचाव अह नोरोवायरस के लिए करने है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *