राजस्थान की आखिरी घरेलू मैच में जीत, हैदराबाद को हराया


[EDITED BY : Super Admin] PUBLISH DATE: ; 28 April, 2019 08:49 AM | Total Read Count 22
राजस्थान की आखिरी घरेलू मैच में जीत, हैदराबाद को हराया

जयपुर। राजस्थान रॉयल्स ने शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण में अपने आखिरी घरेलू मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को सात विकेट से हरा दिया। सवाई मान सिंह स्टेडियम में खेले गए इस मैच में राजस्थान के गेंदबाजों ने हैदराबाद को बड़ा स्कोर नहीं करने दिया। मेजबान टीम को जीत के लिए सिर्फ 161 रन चाहिए थे जो उसने 19.1 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिए। यह राजस्थान का अपने घर में आखिरी मैच था जहां उसे जीत मिली। राजस्थान ने अपने घर में सात मैच खेले जिसमें से उसे तीन में जीत और चार में हार मिली। राजस्थान का यह कुल 12वां मैच था जिसमें से उसे पांच में जीत और सात में हार मिली। इस जीत से मिले दो अंकों के बाद उसके 10 अंक हो गए हैं और वह अंकतालिका में छठे स्थान पर आ गई है। इसी के साथ राजस्थान ने अपने प्लेऑफ में जाने की संभावनाओं को बरकरार रखा है। राजस्थान की इस जीत से चेन्नई सुपर किंग्स को फायदा पहुंचा है। राजस्थान की इस जीत ने चेन्नई को प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बना दिया है। 

आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान को अजिंक्य रहाणे (39) और लियाम लिविंगस्टोन (44) ने बेहद मजबूत शुरुआत दी। इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 78 रन जोड़ राजस्थान की जीत की मजबूत नींव रख दी। लिविंगस्टोन जब अपने अर्धशतक से छह रन दूर थे तभी राशिद खान ने उन्हें विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के हाथों स्टम्प करा दिया। लिविंगस्टोन ने 26 गेंदों का सामना किया और चार चौकों के अलावा तीन छक्के लगाए। हैदराबाद का दूसरा विकेट 15 रन बाद गिरा। शाकिब हसन की गेंद पर डेविड वार्नर ने रहाणे का अच्छा कैच पकड़ा। रहाणे ने 34 गेंदें खेलीं और चार चौकों के अलावा एक छक्का मारा। 

लेकिन इसके बाद हैदराबाद के गेंदबाज मायूस ही रहे और राजस्थान के कप्तान स्टीवन स्मिथ (22) तथा युवा संजू सैमसन (नाबाद 48) ने अपनी टीम को जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 55 रनों की साझेदारी की। स्मिथ 148 के कुल स्कोर पर खलील अहमद का शिकार बने। इस मैच में एश्टन टर्नर ने पहली ही गेंद पर अपना खाता खोला। वह पिछले तीन मैचों से अपना खाता खोले बगैर आउट हो रहे थे लेकिन इस बार उन्होंने ऐसा नहीं होने दिया और अंत तक टिके रहते हुए सैमसन के साथ मिलकर टीम को जीत दिलाई। टर्नर सात गेंदों पर तीन रन बनाकर नाबाद रहे। सैमसन ने अपनी नाबाद पारी में 32 गेंदों का सामना किया और चार चौके और एक छक्का मारा। इससे पहले, टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला करने वाली राजस्थान ने मध्य के ओवरों में नियमित अंतराल पर विकेट लेकर सनराइजर्स हैदराबाद को 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 160 रनों से आगे नहीं जाने दिया। आखिरी ओवर में लिए गए 18 रनों के दम पर हैदराबाद इस स्कोर तक पहुंच सकी। 

हैदराबाद ने 28 के कुल स्कोर पर कप्तान केन विलियम्सन (13) का विकेट खो दिया था, लेकिन इसके बाद डेविड वार्नर (37) ने अपने अंदाज में बल्लेबाजी की और मनीष पांडे (61) के साथ मिलकर राजस्थान के गेंदबाजों पर रन जुटाते रहे। वार्नर और पांडे के बीच दूसरे विकेट के लिए 75 रनों की साझेदारी हुई। ओशाने थॉमस ने वार्नर को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। पांडे ने अपना अर्धशतक पूरा कर लिया था। वह 121 के कुल स्कोर पर दुर्भाग्पूर्ण तरीके से आउट हुए। गोपाल की गेंद वह पर चूके और अपना नियंत्रण खो बैठे। संजू सैमसन ने इस बीच मौका देखते हुए गेंद को स्टम्प पर मार दिया और थर्ड अंपायर ने पांडे को बाहर जाने का आदेश दिया। उन्होंने अपनी पारी में 36 गेंदों का सामना किया और नौ चौके मारे। यहां से राजस्थान के गेंदबाज हावी हो गए और नियमित अंतराल पर विकेट लेते रहे। इस वजह से मजबूत स्कोर तक पहुंचती दिख रही हैदराबाद का 150 रनों के पार जाना भी मुमकिन नहीं लग रहा था। 

विजय शंकर सिर्फ आठ रन ही बना सके। वरुण एरॉन ने उनादकट की गेंद पर उनका शानदार कैच लपका। दीपक हुड्डा (0), रिद्धिमान साहा (5), शाकिब अल हसन (9) जल्दी-जल्दी पवेलियन लौट लिए थे। भुवनेश्वर कुमार (1) भी आखिरी ओवर में आउट हो गए। राशिद ने आखिरी में आठ गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 17 रन बना अपनी टीम को 150 के पार पहुंचाया। राजस्थान के लिए वरुण एरॉन, जयदेव उनादकट, श्रेयस गोपाल, ओशाने थॉमस ने दो-दो विकेट लिए।
 

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories