रसोई अपशिष्ट को खाद में बदलने की अनूठी तकनीक


[EDITED BY : Mohan Kumar] PUBLISH DATE: ; 22 April, 2019 07:08 PM | Total Read Count 186
रसोई अपशिष्ट को खाद में बदलने की अनूठी तकनीक

नई दिल्ली। जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूकता के लिए दुनिया 22 अप्रैल को पृथ्वी दिवस मनाती है। एनसीआर के सामाजिक क्षेत्र में काम करने वाले स्टार्टअप के लिए पृथ्वी और प्रकृति का ख्याल रखने की शुरुआत घर से होती है।

इंडियन स्कूल ऑफ डेवलपमेंट मैनेजमेंट (आईएसडीएम), नोएडा की पीजीपी छात्रा स्वाति सिंह ने रसोई के अपशिष्ट को खाद में बदलने की अपनी प्रौद्योगिकी विकसित की है और वह इसे लेकर स्टार्टअप ‘हरित गृह’ चला रही है। उन्होंने एक बयान में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की रपटों का हवाल देते हुए कहा कि भारत में हर साल करीब सवा छह करोड़ टन ठोस अपशिष्ट तैयार होता है। लेकिन घरेलू कूड़े का करीब 75-80% ही एकत्र हो पाता है और इसमें से 22-28% ही उपचारित होता है। बयान के मुताबिक सिंह ने मेरठ नगर निगम के साथ मिलकर सामुदायिक कंपोस्टिंग सोसाइटी स्थापित करने में सफलता हासिल की है।

शून्य अपशिष्ट अभियान के तहत सिंह ने रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन (आरडब्ल्य़ूए), होटल एसोसिएशन, अस्पताल, सरकारी स्कूल और कॉलेजों में कूड़े के दुष्प्रभावों को लेकर व्यापक पैमाने पर जागरूकता अभियान चलाया। सिंह के स्टार्टअप हरित गृह की कंपोस्ट इकाई में एयरोबिक होम कंपोस्ट मिक्सिंग पाउडर, माइक्रोब्स और एक रैक होता है। वह लोगों को इसके लिए निशुल्क प्रशिक्षण भी देती हैं। हरित गृह की संस्थापक सिंह ने एक बयान में कहा कि हम अपशिष्ट पानी, ऊर्जा, खाद्य पदार्थ और निर्माण सामग्री जैसी पांच चीजों पर दैनिक आधार पर नजर रखकर छोटे-छोटे प्रयासों से पर्यावरण संरक्षण में एक बड़ा योगदान दे सकते हैं।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories