• [EDITED BY : Super Admin] PUBLISH DATE: ; 12 June, 2019 11:25 AM | Total Read Count 105
  • Tweet
उपलब्धियों की उम्मीदों पर सवार मध्यप्रदेश

देवदत्त दुबेः मध्यप्रदेश के दोनों ही दलों भाजपा और कांग्रेस के नेताओं के नाम विभिन्न पदों पर लिए जा रहे हैं लगभग आधा दर्जन नेताओं के नाम दिए जा रहे हैं जिन्हें किसी न किसी पद से नवाजा जाना है जैसा कि मंगलवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री और सात बार के सांसद वीरेंद्र कुमार को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया गया है वीरेंद्र कुमार का नाम लोकसभा अध्यक्ष के लिए लिया जा रहा है।

दरअसल देश का हृदय स्थल ही नहीं वरन राजनीति का महत्वपूर्ण केंद्र बनकर भी मध्य प्रदेश उभर रहा है प्रदेश के दोनों ही प्रमुख दलों भाजपा और कांग्रेसमें ऐसे नेताओं की लंबी लंबी लाइन है जो राष्ट्रीय स्तर पर भी दखल रखते हैं लंबे समय तक उत्तर प्रदेश देश की राजनीति का नेतृत्व करता रहा है तो इस समय गुजरात का नाम देश की राजनीति में शीर्ष पर बना हुआ है लेकिन मध्य प्रदेश भी धीरे-धीरे अपनी संभावनाएं बनाता जा रहा यहां के नेताओं ने अपनी नेतृत्व क्षमता का अन्य राज्यों में बेहतर प्रदर्शन करके दिखाया है अपनी संघर्ष क्षमता का लोहा मनवाया है।

प्रदेश से कुछ नेता ऐसे भी हुए जो शीर्ष पद पर जाते जाते रह गए मसलन कांग्रेसमें अर्जुन सिंह का नाम धानमंत्री करते दावेदारों में गिना जाता रहा है लेकिन भी उस पद तक नहीं पहुंच पाए भाजपा में अटल बिहारी बाजपेई जरूर प्रधानमंत्री पद तक पहुंचने में कामयाब हुए तो कांग्रेसी नेता डॉ शंकर दयाल शर्मा राष्ट्रपति बनने में सफल हुए और 2014 में सुमित्रा महाजन लोकसभा के अध्यक्ष बनी लेकिन इस बार में लोकसभा का चुनाव नहीं लड़े इसके बावजूद लोकसभा के लिए मध्यप्रदेश केही वीरेंद्र कुमार का नाम इस पद के लिए लिया जा रहा है।

बहरहाल लोकसभा चुनाव के बाद दोनों ही दलों में जहां राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर नाम सामने आ रहे हैं वही भाजपा शासक केंद्र सरकार नेताओं को विभिन्न पदों पर नवाज ने जा रही है जिसमें कुछ राज्यों में राज्यपाल की नियुक्ति होना है जिसमें मध्य प्रदेश कि नेता और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन एवं विदिशा से लोकसभा सदस्य रहे पूर्व प्रदेश मंत्री सुषमा स्वराज के राज्यपाल बनने की अटकलें तेजी से लगाई जा रही है वैसे तो पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर और कैलाश जोशी के नाम भी इन पदों के लिए दोनों ही नेता इस समय अस्वस्थ हैं जिसके कारण अन्य नेताओं मैं से नाम तलाशे जा रहे हैं।

जहां तक संगठन की बात है तो भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के गृह मंत्री बनने के बाद नए अध्यक्ष की तलाश की जा रही है उसमें मध्य प्रदेश के नेताओं के नाम भी गंभीरता से जा रहे पश्चिम बंगाल में भाजपा को मजबूत करने वाले पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का नाम राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए तेजी से उभरा है प्रदेश से ही जुड़े जय प्रकाश नड्डा का नाम राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए शीर्ष पर है। केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी मध्य प्रदेश को पर्याप्त महत्व मिला है जहां नरेंद्र सिंह तोमर को कृषि एवं पंचायत व ग्रामीण विकास जैसे महत्वपूर्ण विभाग दिए गए हैं वही थावरचंद गहलोत और पहलाद पटेल को भी महत्वपूर्ण विभाग दिए गए हैं।

जहां तक बात कांग्रेस की है तो पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए गंभीरता से लिया जा रहा है और यदि राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं बने तो फिर प्रदेशाध्यक्ष के लिए भी सिंधिया पार्टी हाईकमान की पहली पसंद बने हुए मध्यप्रदेश में कांग्रेश के दिग्गज नेताओं की लंबी सूची है जोकि राष्ट्रीय स्तर पर संगठन में या फिर प्रदेश में सत्ता में कहीं ना कहीं पदों से नवाजे जाएंगे जिनमें पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव और पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह का नाम प्रमुखता से दिया जा रहा है।

कुल मिलाकर प्रदेश के दोनों ही प्रमुख दलों कांग्रेस और भाजपा में राष्ट्रीय और प्रादेशिक स्तर पर नेताओं को महत्वपूर्ण पदों पर नवाजे जाने के लिए गंभीरता से विचार चल रहा है जिसकी शुरुआत सांसद वीरेंद्र कुमार को लोकसभा का प्रोटेम स्पीकर बनाने से हो चुकी है।

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

Categories