भामाशाह बनें! बचाएं आजाद पत्रकारिता को!

हमें दान दें उस काम के लिए, जिससे हम सबकी आजादी बचती-बनती है। मीडिया आज जैसा है वह आपसे छिपा नहीं है। आठ-दस घरानों की मोनोपॉली, धंधेबाजी व सरकार, सत्ता, धनबल-बाहुबल के आगे स्वतंत्र-निर्भीक-विचारपूर्ण पत्रकारिता का दीया बुझने की कगार पर है। यह साइट/ एप अलाभकारी ट्र्स्ट के जरिए स्वतंत्र पत्रकारिता को बचाने का मंच है और पाठकों, सुधीजनों के योगदान पर निर्भर है। सो एकमुश्त दान कर सकते है तो सालाना योगदान, हर महिने योगदान भी दे सकते है या जब भी साइट/एप पर आप अच्छा पठनीय पढ़े तो उसके बतौर पारिश्रमिक दान की राशि का विकल्प यहां चुने और वह दान करें!- हरिशंकर व्यास, संपादक।

Categories