शर्मिष्ठा के बुनियादी सवाल

दिल्ली में लगभग सफाया होने से कांग्रेस को झटका तो जोरदार लगा, लेकिन पार्टी के ज्यादातर नेता उससे सदमे में आने के बजाय भारतीय जनता पार्टी की बुरी हार पर राहत जताते लगाए। मगर पार्टी में कम से कम एक नेता ऐसी हैं, जिन्हें यह रास नहीं आया। और उन्होंने अपनी निराशा जताने में कोई हिचक नहीं बरती। बल्कि ऐसा उन्होंने सार्वजनिक रूप से किया। कहा जा सकता है कि शर्मिष्ठा मुखर्जी ने बेहद बुनियादी प्रश्न उठाया, जो आज कांग्रेस के सामने खड़ा है। यह कहने में भी कोई हिचक नहीं होनी चाहिए कि इस सवाल को नजरअंदाज कर पार्टी अपने भविष्य से खिलवाड़ करेगी। बल्कि ऐसा करना अपने पांव पर कुल्हाड़ी मारने जैसा होगा। दिल्ली के चुनाव नतीजे आने के बाद पूर्व वित्त मंत्री पी। चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा- ‘आप की जीत हुई, बेवकूफ बनाने तथा फेंकने वालों की हार।

दिल्ली के लोगों ने, जो भारत के सभी हिस्सों से आते हैं, भाजपा के ध्रुवीकरण, विभाजनकारी और खतरनाक एजेंडे को हराया है। मैं दिल्ली के लोगों को सलाम करता हूं, जिन्होंने 2021 और 2022 में अन्य राज्यों जहां चुनाव होंगे के लिए मिसाल पेश की है।’ चिदंबरम की इस ट्वीट को टैग कर शर्मिष्ठा मुखर्जी ने लिखा-  ‘सम्मान के साथ चिदंबरम सर, मैं बस जानना चाहती हूं कि कांग्रेस ने राज्यों में भाजपा को हराने का काम आउटसोर्स किया है क्या? और यदि आउटसोर्स किया है तो पीसीसी अपनी दुकान को बंद कर देना चाहिए।’ नतीजे आने के तुरंत बाद शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कांग्रेस की हार पर कई सवाल पूछे थे। उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा था- ‘हम दिल्ली में फिर हार गए। आत्म-मंथन बहुत हुआ अब कार्रवाई का समय है। शीर्ष स्तर पर निर्णय लेने में देरी, राज्य स्तर पर रणनीति और एकजुटता का अभाव, कार्यकर्ताओं का निरुत्साह, नीचे के स्तर से संवाद नहीं होना आदि हार के कारण है।’ मुद्दा यही है कि क्या कांग्रेस ने मान लिया है कि जहां उसकी दुकान नहीं चल रही, वहां अब उसे बंद कर देना ही बेहतर है? वरना, सच यह है कि दिल्ली में फिलहाल उसका भविष्य अंधकारमय हो चुका है। इस चुनाव में यह शुरू से साफ रहा कि कांग्रेस मैदान में नहीं है। वह ताकत ही नहीं लगा रही थी। नतीजतन, बहुत से कांग्रेस समर्थकों ने भी आप को वोट दिया। क्या इस पर नेतृत्व भी खुश था? ऐसा है, तो समस्या एक हार-जीत की नहीं, बल्कि अस्तित्व के लिए गहराते संकट की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares