यूपी में ये कैसा राज? - Naya India
बेबाक विचार | लेख स्तम्भ | संपादकीय| नया इंडिया|

यूपी में ये कैसा राज?

पिछले हफ्ते उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक पत्रकार को उन बदमाशों के खिलाफ शिकायत करना जानलेवा साबित हुआ, जिन्होंने उनकी भांजी के साथ छेड़खानी की थी। बदमाशों ने पत्रकार विक्रम जोशी को गोली मार दी, क्योंकि उन्होंने अपनी भांजी के साथ छेड़खानी की शिकायत पुलिस से की थी। खबरों के मुताबिक विक्रम जोशी जब अपनी दो बेटियों के साथ मोटरसाइकिल पर घर लौट रहे थे, उसी दौरान कुछ बदमाशों ने उन्हें घेर लिया और उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। यह सब उस वक्त हो रहा था, जब उनकी दो बेटियां उनके साथ थीं। मारपीट के बाद आरोपियों ने जोशी के सिर पर गोली मार दी। उन्हें गंभीर हालत में गाजियाबाद के ही एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी 22 जुलाई को मौत हो गई। जोशी के परिवार का कहना है कि उन्होंने उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराई थी। घटना के बाद चौकी इंचार्ज को लचर रवैये के कारण निलंबित कर दिया गया।

गाजियाबाद पुलिस के मुताबिक हत्या के मामले में 9 लोग गिरफ्तार किए गए। पुलिस ने आरोपियों के पास से अवैध हथियार भी बरामद किया। मगर इस घटना से उठे सवाल इससे खत्म नहीं हो जाते। इस घटना ने समाज के सभी वर्गों को परेशान किया है। पत्रकार, राजनीतिक दल और सामान्य नागरिकों की तरफ से प्रदेश की कानून व्यवस्था पर वाजिब सवाल खड़े किए गए हैं। सवाल कर है कि विक्रम जोशी पुलिस से शिकायत करते रहे, लेकिन पुलिस ने समय पर कार्रवाई क्यों नहीं की। जोशी की भांजी ने एक टीवी चैनल को बताया कि आरोपी उसके साथ बीते दो-तीन साल से छेड़खानी कर रहे थे। जब वह गली से गुजरती थी तो आरोपी उस पर भद्दी टिप्पणियां करते और परेशान करते थे। लाजिमी है कि एक पत्रकार की इस तरह से हत्या पर विपक्षी दलों ने सवाल उठाए। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, बंगाल की मुख्यमंत्री ममत बनर्जी, और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं ने जोशी की हत्या पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को घेरा। कई नेताओं ने जोशी की हत्या के आरोपियों को कड़ी सजा देने की भी मांग की। बेहतर यह होगा कि इसका तीखा जवाब देने के बजाय आदित्यनाथ और भाजपा यूपी के हाल का मूल्यांकन करें और सटीक कदम उठाएं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *