nayaindia कोरोना का नया दायरा - Naya India
बेबाक विचार | लेख स्तम्भ | संपादकीय| नया इंडिया|

कोरोना का नया दायरा

कोरोना महामारी की नई लहर ने विकराल रूप धारण कर लिया है। पहले जिन उम्र वर्गों के लोगों को इससे अपेक्षाकृत सुरक्षित माना जाता था, अब वे भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। 12 साल से कम उम्र के बच्चों के साथ नवजात शिशुओं में भी ये संक्रमण देखने को मिला है। नौजवान युवा तो इसके शिकार हो ही रहे हैं। डॉक्टरों ने कहा है कि यह नई लहर शुरू हुई है, तबसे छोटे बच्चों के संक्रमित होने की खबर मिलने लगी। दिल्ली में तो सबसे छोटा संक्रमित बच्चा वह है, जिसका जन्म ही अस्पताल में हुआ था। यानी वह नवजात शिशु है। 15 से 30 वर्ष तक के तो अनगिनत नौजवान संक्रमित हो चुके हैँ। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अक्टूबर 2020 के एक दस्तावेज में बताया था कि कोविड-19 का संक्रमण वयस्कों की तुलना में बच्चों में बहुत कम देखा गया है। लेकिन अब भारत में आई इस महामरी की दूसरी लहर में सभी आयु वर्ग के बच्चे प्रभावित हो रहे हैं।

ऐसे भी कुछ मामले सामने आए हैं, जिनमें इस संक्रमण के कारण निमोनिया हो गया। कुछ बच्चों में मल्टीसिस्टम इन्फ्लेमेटरी सिंड्रोम (एमआईएस-सी) जैसी अधिक गंभीर जटिलताएं भी देखी गई हैं। ये सब खतरनाक संकेत हैँ। इससे कोरोना की बढ़ रही चुनौती का संक्त मिलता है। इससे यह भी जाहिर होता है कि कोरोना वायरस के बारे में इनसान की जानकारी अभी बहुत शुरुआती स्तर पर है। ऐसे हाल में स्वाभाविक है कि खतरा ज्यादा है। जिस वायरस के पूरे स्वभाव को अभी नहीं जाना गया है, वह कैसे और किस हद तक असर करेगा, ये समझना भी कठिन है। और जाहिर है, तब रोकथाम से लेकर उपचार तक की चुनौती बहुत बढ़ जाती है। फिलहाल विशेषज्ञों की इस सलाह पर सबको ध्यान देना चाहिए कि बच्चों में हल्के लक्षणों को नजरअंदाज ना किया जाए। बच्चों में संभावित डायरिया, सांस लेने में समस्या, और सुस्ती जैसे लक्षणों पर नजर रखी जाए। खासकर बुखार होने पर सतर्क रहने की सलाह दी गई है। गौरतलब है कि अभी हाल यह है कि अस्पतालों में बेड नहीं हैं। बाकी सुविधाएं तो चरमरा ही चुकी हैं। ऐसे में बच्चों तक वायरस का खतरनाक असर पहुंचने का मतलब गंभीर है। यहां ये बात ध्यान में रखने की है कि अपने देश अपना बचाव खुद करने के अलावा कोई दूसरा उपाय नहीं है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − 11 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने दिखाई एकता
मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने दिखाई एकता