गौतम गंभीर क्या सीएम का चेहरा होंगे?

क्या‍ पूर्व टेस्ट क्रिकेटर गौतम गंभीर दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी का चेहरा होंगे? यह लाख टके का सवाल है, जिसका जवाब सिर्फ नरेंद्र मोदी या अमित शाह दे सकते हैं। पर दिल्ली में विधानसभा चुनाव से पहले इसकी चर्चा शुरू हो गई है कि भाजपा पिछली बार की तरह एक बार फिर दिल्ली में सबको चौंका सकती है। पिछली बार भाजपा ने पूर्व आईपीएस अधिकारी किरण बेदी को मुख्यमंत्री पद का दावेदार बना कर सबको चौंकाया था। हालांकि इसका बड़ा खामियाजा पार्टी को भुगतना पड़ा था। एक साल पहले डॉक्टर हर्षवर्धन के चेहरे पर जो पार्टी दिल्ली में 32 सीट जीती थी वह किरण बेदी के चेहरे पर चुनाव लड़ कर तीन सीटों पर सिमट गई।

तभी इस बार यह चर्चा थी कि पार्टी सामूहिक नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी। किसी का चेहरा नहीं पेश किया जाएगा। पर अचानक गौतम गंभीर के नाम की चर्चा हो रही है। संभव है कि युवाओं को आकर्षित करने और अपने पुराने पंजाबी वोट को एकजुट करने के लिए भाजपा ने पासा फेंका हो। असल में दिल्ली में इस समय मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा की ओर से मनोज तिवारी, विजय गोयल, विजेंद्र गुप्ता, प्रवेश साहिब सिंह वर्मा आदि के नाम की चर्चा है। इनमें कोई भी पंजाबी नहीं है। इससे भाजपा को पंजाबी वोट बिदकने का अंदेशा होगा। तभी संभव है कि गौतम गंभीर का नाम भी सामूहिक नेतृत्व की सूची में डाल दिया गया हो ताकि पंजाबी मतदाताओं में मैसेज जाए कि भाजपा जीती तो पंजाबी मुख्यमंत्री भी बन सकता है। जो हो पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर का नाम दावेदारों में चलने लगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares