मनमोहन की ललकार पर बोले राहुल बजाज

पिछले हफ्ते शुक्रवार को जब आर्थिक विकास दर, जीडीपी का आंकड़ा आया तब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने बहुत तीखा बयान दिया था। आमतौर पर वे इस तरह से बयान नहीं देते हैं पर जब जीडीपी साढ़े चार फीसदी पहुंची तो उन्होंने कारपोरेट जगत की चुप्पी पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि क्यों चुप हैं, लोग इस तरह की आर्थिक स्थिति पर। मनमोहन सिंह ने एक तरह से देश के उद्योगपतियों को ललकारते हुए कहा कि उन्हें देश की आर्थिक स्थिति के बारे में बोलना चाहिए। ध्यान रहे दूसरी तिमाही में जीडीपी के साढ़े चार फीसदी पहुंचने पर दस शीर्ष उद्योगपतियों और कारोबारियों में से किसी ने अच्छा या बुरा किसी तरह का बयान नहीं दिया था।

असल में मनमोहन सिंह को इस बात का दुख था कि उनकी सरकार में हर आर्थिक नीति पर कारपोरेट जगत की प्रतिक्रिया आती थी। कारोबारी उनको चिट्ठियां लिख कर उनकी सरकार की नीतियों की आलोचना करते थे। मीडिया में रोज उनके बयान दिखाए जाते थे। तभी उन्होंने देश के कारोबारियों को ललकारा। बाकी किसी ने तो इस पर ध्यान नहीं दिया पर बजाज समूह के बुजुर्ग कारोबारी राहुल बजाज ने मनमोहन सिंह की बात सुनी और सीधे अमित शाह से सवाल पूछ दिया। उन्होंने मनमोहन सिंह की भावना को आवाज देते हुए कहा कि यूपीए की सरकार में तो सब सवाल पूछ रहे थे पर इस सरकार में डर लगता है। उनके साहस ने उनको सोशल मीडिया में हीरो बनाया है तो दूसरी ओर भाजपा समर्थक उनको विलेन बनाने में लग गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares