भाजपा क्या करेगी महाराष्ट्र में?

महाराष्ट्र में शिव सेना, एनसीपी और कांग्रेस सरकार बनाने की निर्णायक पहल कर चुके हैं। तीनों पार्टियां एकजुट हैं, उनके विधायक नहीं टूटे हैं और उनका साझा न्यूनतम कार्यक्रम तय हो गया है। तभी सवाल है कि अब भारतीय जनता पार्टी क्या करेगी? यह सवाल इसलिए है क्योंकि शुक्रवार से ही भाजपा के नेताओं ने कहना शुरू किया है कि सरकार उनकी बनेगी। आखिर कैसे बनेगी?

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि राज्य में स्थिर सरकार सिर्फ भाजपा दे सकती है क्योंकि वह सबसे बड़ी पार्टी है। इससे आगे बढ़ कर उन्होंने दावा किया कि भाजपा ही सरकार बनाएगी। ध्यान रहे चंद्रकांत पाटिल भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेहद करीबी हैं। यह भी चर्चा थी कि शाह उनको ही महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाना चाहते थे। इसलिए उनका दावा अनायास नहीं है।

इसी तरह भाजपा के एक और बड़े नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी क्रिकेट की शब्दावली इस्तेमाल करते हुए कहा कि राजनीति और क्रिकेट में कुछ भी संभव है। उन्होंने कहा दोनों अंत तक ऐसा लग रहा होता है कि टीम हार रही है और वहीं टीम जीत जाती है। अगर चंद्रकांत पाटिल की बात को नितिन गडकरी की बातों से मिला कर देखें तो लगता है कि भाजपा अंदर अंदर कुछ न कुछ प्लान कर रही है, जो बाकी पार्टियों को नहीं दिख रहा है। भाजपा जो कर रही है वह कब सामने आएगा, यह भी किसी को पता नहीं है।

इस बीच शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा विधायक दल के नेता देवेंद्र फड़नवीस ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। बाद में फड़नवीस ने कहा कि किसानों की मदद के लिए राशि जारी कराने के लिए वे राज्यपाल से मिलने गए थे और राजनीति पर कोई बात नहीं हुई। पर मौजूदा हालात को देखते हुए क्या कोई इस बात पर यकीन कर सकता है? बहरहाल, भाजपा अपनी तैयारी कर रही है और शिव सेना ने अपनी कर ली है। फिर भी यह कहा जा रहा है कि शिव सेना, एनसीपी और कांग्रेस जितनी जल्दी पहल करें, उतना अच्छा होगा। देरी होगी तो कुछ भी हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares