चिरंजीवी और पवन कल्याण क्या करेंगे?

तेलुगू फिल्मों के सुपर सितारे चिरंजीवी क्या फिर राजनीति में लौटेंगे? आंध्र प्रदेश में इसकी अटकलें शुरू हो गई हैं। सोमवार को उन्होंने मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी से मुलाकात की। चिरंजीवी और उनकी पत्नी विशेष विमान लेकर विजयवाड़ा गए थे और जगन से मुलाकात की थी। आधिकारिक रूप से सिर्फ इतना कहा गया कि उन्होंने राज्य सरकार की योजनाएं के बारे में बात की और उनका राजनीति में फिर से उतरने का कोई इरादा नहीं है। ध्यान रहे उन्होंने प्रजा राज्यम पार्टी बना कर चुनाव लड़ा था और फिर कांग्रेस में शामिल हो गए थे। कांग्रेस के सफाए के बाद उन्होंने पार्टी और राजनीति दोनों छोड़ दी।

दूसरी ओर उनके भाई और फिल्म अभिनेता पवन कल्याण ने भी जन सेना नाम से पार्टी बना कर चुनाव लड़ा पर कोई कामयाबी नहीं मिली। सो, अब अंदाजा लगाया जा रहा है कि दोनों भाई एक साथ आ सकते हैं और नए सिरे से राजनीति कर सकते हैं। जगन मोहन से चिरंजीवी की मुलाकात को इसी से जोड़ कर देखा जा रहा है। ध्यान रहे चिरंजीवी और पवन कल्याण कापू समुदाय से आते हैं। राज्य की राजनीति कापू और कम्मा ये दो बहुत प्रभावी समुदाय हैं। कम्मा समुदाय का प्रतिनिधित्व टीडीपी के चंद्रबाबू नाय़डू हैं। कुछ समय पहले यह भी माना जा रहा था कि पवन कल्याण भाजपा के साथ जा सकते हैं। बहरहाल, जो हो दोनों भाइयों के अगले कदम पर नजर रखने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares