मुंबई में कंगना का ऑफिस तोड़ने पर बीएमसी की हुई निंदा

नई दिल्ली। बृहन्मुंबई म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन (बीएमसी) द्वारा मुंबई में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के ऑफिस को ध्वस्त करने के बाद कई संगठन अभिनेत्री के समर्थन में सामने आए हैं। साथ ही हिमाचली मित्र मंडल ने राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) और केंद्र से मामले में हस्तक्षेप करने के लिए संपर्क भी किया है।

दिल्ली-एनसीआर क्षेत्रों में बसे हिमाचल प्रदेश के लोगों के शीर्ष संगठन हिमाचल मित्र मंडल (एचएमएम) ने एनसीडब्ल्यू और केंद्र से अनुरोध किया कि वे रनौत पर महाराष्ट्र की सरकार द्वारा किए जा रहे अत्याचार के मामले में हस्तक्षेप करे और उसे रोके। कंगना रनौत हिमाचल प्रदेश से ताल्लुक रखती हैं।

बीएमसी द्वारा अभिनेत्री के दफ्तर में कथित अनधिकृत निर्माण कार्य और एक्सटेंशन को लेकर उनके बांद्रा स्थित ऑफिस को ध्वस्त करने के बाद ये प्रतिक्रियाएं सामने आईं हैं। अभिनेत्री ने बीएमसी द्वारा ध्वस्त किए गए अपने ऑफिस की तस्वीरें साझा की और उस पर प्रतिक्रिया भी दी थी।

बॉम्बे हाई कोर्ट ने बाद में ऑफिस गिराने के काम पर स्थगन आदेश दे दिया था। एचएमएम दिल्ली की अध्यक्ष चंदकांता ने एक बयान में मुंबई हवाई अड्डे पर शिवसेना के कार्यकतार्ओं द्वारा रनौत की सुरक्षा को खतरे में डालने और शहर में उनके आगमन पर धमकाने को सरकार की ‘गुंडागर्दी’ बताई और इसकी निंदा की।

उन्होंने रनौत को पर्याप्त सुरक्षा प्रदान करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को भी धन्यवाद दिया और उम्मीद जताई कि शिवसेना के असामाजिक तत्वों को मुंबई पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया जाएगा और अभिनेत्री को बिना किसी भय या धमकी के अपनी गतिविधियों को फिर से शुरू करने की अनुमति दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares