nayaindia Maharashtra Politcal Crisis : सूरत जाने के लिए सुरक्षाकर्मियों से लगाया तिकड़म...
मनोरंजन | बॉलीवुड| नया इंडिया| Maharashtra Politcal Crisis : सूरत जाने के लिए सुरक्षाकर्मियों से लगाया तिकड़म...

Maharashtra Politcal Crisis : सूरत जाने के लिए सुरक्षाकर्मियों से लगाया तिकड़म, अब सामने आ रही है बात…

Maharashtra Politcal Crisis :
Image Source : India Today

मुंबई | Maharashtra Politcal Crisis : महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक विवाद को लेकर हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं. ताजा मामला शिवसेना के बागी विधायकों से जुड़ा है जिस संबंध में बताया जा रहा है कि सूरत जाने से पहले इन विधायकों ने अपने सुरक्षाकर्मियों को चकमा दिया था. ये विधायक अभी गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं. शिवसेना के मंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में असंतुष्ट विधायकों से जुड़े मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम से क्या कुछ निकलकर सामने आता है, यह देखना अभी बाकी है. हालांकि, इसमें कोई संदेह नहीं है कि वे अपने सुरक्षाकर्मियों के साथ-साथ पार्टी कार्यकर्ताओं की आंखों में धूल झोंककर पड़ोसी राज्य में भागने में सफल रहे, जिससे अब खुफिया विफलता की चर्चा को हवा मिली है.

निजी कारणों का हवाला देते हुए दिया चकमा…

Maharashtra Politcal Crisis : इस संबंध में बताया कि पुलिस अधिकारी ने बताया कि विधायकों ने निजी कारणों का हवाला देते हुए कहा अपने सुरक्षा अधिकारियों और पुलिस कर्मियों को चकमा दिया, ताकि सरकारी तंत्र उनकी योजनाओं को न भांप सके. शिंदे के पार्टी के खिलाफ विद्रोह करने और कुछ विधायकों के शुरू में गुजरात और फिर बाद में असम (दोनों भाजपा शासित राज्यों) पहुंचने के बाद एमवीए बड़े राजनीतिक संकट का सामना कर रहा है. 20 जून को विधान परिषद के चुनावों के कुछ घंटों बाद यह संकट पैदा हुआ, जिसमें विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने पांचवें उम्मीदवार को निर्वाचित कराने के लिए बेहतरीन प्रबंधन का प्रदर्शन किया.

इसे भी पढें- सिक्विन गाउन में Mouni Roy ने दिए धुंधले लुक्स, लोग बोले क्या छुपा रहे हो

गुवाहटी में डेरा जमाए हुए हैं विधायक…

Maharashtra Politcal Crisis : नतीजे आने के बाद शिंदे संपर्क से दूर हो गए. वह और बागी विधायकों का एक समूह पहले गुजरात में रहा. बुधवार से शिंदे शिवसेना के कम से कम 38 बागी विधायकों और 10 निर्दलीय सदस्यों के साथ गुवाहटी के एक होटल में डेरा डाले हुए हैं. उनका विद्रोह 21 जून की सुबह सार्वजनिक हो गया. ये विधायक कैसे मुंबई से लगभग 280 किलोमीटर की दूरी पर स्थित सूरत जाने में सफल रहे, इस पर एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि राज्य पुलिस विभाग ने विधायकों की सुरक्षा में जिन सुरक्षाकर्मियों को लगाया था, उन्हें विधायकों ने बताया कि वे कुछ निजी काम से जा रहे हैं. उन्होंने सुरक्षाकर्मियों को उनके लौटने तक इंतजार करने का निर्देश दिया. हालांकि, इसके बाद वे बिना बताए सूरत चले गए.

इसे भी पढें- बर्थडे केक की मोमबत्ती भी नहीं बुझा पाई Karisma Kapoor, वीडियो वायरल

Leave a comment

Your email address will not be published.

20 − three =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ताइवान चीन के लिए एक चुनौती
ताइवान चीन के लिए एक चुनौती