बुरी पटकथा पर काम कर आगे नहीं बढ़ा जा सकता : सचिन खेडेकर

मुंबई। अभिनेता सचिन खेडेकर का मानना है कि अभिनेता के लिए अपने अभिनय कौशल का बेहतरीन प्रदर्शन करने के लिए एक अच्छी पटकथा मिलना बहुत महत्वपूर्ण है। खेडेकर ने बताया, “एक अभिनेता के जीवन में सबसे अहम रोल उसे मिलने वाली स्क्रिप्ट निभाती है। यदि स्क्रिप्ट अच्छी न हो तो कलाकार के लिए आगे बढ़ना मुश्किल हो जाता है। मेरा मानना है कि कोई भी महान अभिनेता एक बुरी स्क्रिप्ट से आगे नहीं बढ़ सकता। जब भी मैं कोई प्रोजेक्ट हाथ में लेता हूं तो मैं सुनिश्चित करता हूं कि स्क्रिप्ट आकर्षक हो।

खेडेकर की नई अपराध फिल्म ‘हलाहल’ है। इसके असली पात्रों को लेकर अभिनेता ने कहा, “मुझे असली किरदार निभाने में बहुत मजा आता है। मुझे अच्छा लगता है, जब मेरे किरदार वास्तविकता का चित्रण करते हैं और आम आदमी को इससे जुड़ने में मदद करते हैं। मैं कभी ऐसा हीरो नहीं बनना चाहता था जो पूरी तरह से अलग-थलग हो और केवल सपने बेचता हो।

बता दें कि ‘हलाहल’ एक काल्पनिक अपराध कथा है, जो सच्ची घटनाओं से प्रेरित है। इसमें एक पिता की अपनी बेटी की मौत के पीछे की सच्चाई तलाशने की यात्रा दिखाई गई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares