• डाउनलोड ऐप
Thursday, May 13, 2021
No menu items!
spot_img

Film Industry : नारायणी शास्त्री को फिल्मों की जगह टीवी धारावाहिक में काम करना पसंद

Must Read

Mumbai | ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ फेम टेलीविजन अभिनेत्री नारायणी शास्त्री ( Television Actress Narayani Shastri ) का कहना है कि वह कभी भी फिल्मों (Films) में काम करना नहीं चाहती है. क्योंकि उनमें महिला अभिनेत्रियों ( Actress ) को प्रधानता नहीं मिलती है. उनका कहना हैं कि ऐसी बहुत कम फिल्में (Films) हैं, जिनमे महिलाओं को प्रधानता दी जाती हैं। अभिनेत्री ने बताया, मेरे टेलीविजन ( Television ) में हमेशा काम करने का एक कारण यह है कि फिल्में (Films ) पुरुष प्रधान होती हैं।

इसे भी पढ़ें :-Natinal Film Festival में छाया ‘बिहार’ सुशांत की छिछोरे बेस्ट हिंदी फिल्म, मनोज वाजपेयी बेस्ट एक्टर 

एक-दो फिल्में ही ऐसी होती हैं, जिनमें महिलाओं को प्रमुखता मिलती है, वरना फिल्में सलमान खान (Salman Khan), आमिर खान (Amir Khan) और अक्षय कुमार (Akshay Kumar) आदि के बारे में ही होती हैं। उन्होंने आगे कहा, टेलीविजन गृहिणियों (House Wife) के लिए है और महिलाओं की पीढ़ी महिला को देखना चाहती है। अभिनेत्रियों के पास टीवी पर अच्छे रोल निभाने के कई मौके हैं। इसलिए टीवी इंडस्ट्री (TV Industri) में काम करते हुए उनके पास पैसे और सम्मान की मांग करना आसान हो जाता है। यह आप पर है कि आप शो में कहां है और आप कितने अहम हैं।

इसे भी पढ़ें :- IPL 2021:   CSK की नई जर्सी हुई लांच, धोनी ने जर्सी लॉन्च कर सेना को दिया सम्मान

अभिनेत्री का कहना हैं कि वह टीवी पर सभी तरह की भूमिकाएं करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने आगे कहा, भले ही यह सास-बहू का शो हो, मुझे लगता है कि अगर यह सही तरीके से किया जाता है, तो यह मुझे अच्छा लगेगा। मैं खराब या सस्ता काम नहीं करना चाहती, जहां आप शूटिंग खत्म करने की जल्दी कर रहे हैं। यदि निर्देशक (Director) ‘सास-बहू’ शो अच्छी तरह से करना चाहता है, तो मैं इसका हिस्सा बनने के लिए तैयार हूं। अभिनेत्री वर्तमान में ‘आपकी नजरों ने समझा’ शो का हिस्सा हैं।

इसे भी पढ़ें :-FIAF Award 2021 पाने वाले पहले भारतीय बने अमिताभ बच्चन,  2021 में आएंगी बैक टू बैक फिल्में

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जाने सत्य

Latest News

क्या खुद को फांसी पर लटका ले?

बेंगलुरू। देश की अलग अलग उच्च अदालतों और सर्वोच्च अदालत की ओर से कोरोना वायरस की महामारी और टीकाकरण...

More Articles Like This