Loading... Please wait...
ताजा पोस्ट सुर्खिया
काबुल में विस्फोट, 20 मरे, 300 घायल
चैंपियंस ट्रॉफी: भारत ने बांग्लादेश को 240 रनों से हराया
यूपी में डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र दो साल बढ़ी
केरल में पशु वध पर सोनिया, राहुल से माफी की मांग
आरसीए चुनाव के परिणाम दो जून को घोषित किये जाये
बाबरी मामला : आडवाणी, जोशी व अन्य को जमानत मिली
बांग्लादेश में तूफान ‘मोरा’ ने दी दस्तक
आडवाणी, जोशी कोर्ट में पेश होने के लिए लखनऊ रवाना
सीरिया में रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल खतरे की घंटी: मैक्रोन
जापान में बस दुर्घटनाग्रस्त, 8 घायल
रूस में तूफान, 11 मरे
मोदी ने की मर्केल से मुलाकात
भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज नहीं हो सकती: खेल मंत्री
बैल काटे जाने पर कांग्रेस के 4 कार्यकर्ता निलंबित
पीएम मोदी चार देशों की यात्रा पर रवाना

गपशप कॉलम

अमित शाह हुए बदनाम, कैसे?

भाजपा की अंदरूनी खलनायकी से! वैसे ही जैसे नितिन गडकरी बतौर अध्यक्ष हुए थे। कई कारण है जिनसे अमित शाह का मामला भाजपा के एक और अध्यक्ष बंगारू लक्ष्मण जैसा और पढ़ें....

मोदी गंवाने लगे आत्मविश्वास!

मैं बदहाल-बरबाद हुए देश की थीसिस लिए हुए हूं। बावजूद इसके मेरा पक्का मानना है कि भाजपा हिमाचल, गुजरात दोनों जगह मजे से जीतेगी! न ही यह अभी दिख रहा है कि 2019 के और पढ़ें....

अमित शाह का यह सियासी मोड़

मेरा मानना था कि अंदरूनी बिसात में 2019 तक राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी निपटेंगे। कल्पना नहीं थी कि अमित शाह पर बदनामी का बादल फूटेगा। वह भी गुजरात चुनाव से ऐन और पढ़ें....

अगले चुनाव का रंग भगवा!

कोई माने या न माने पर अपने को लग रहा है कि लोकसभा का अगला चुनाव भगवा रंग में रंगा होगा। भले जैसा कि अमित शाह हर सभा, सम्मेलन में बता रहे हैं कि प्रधानमंत्री और पढ़ें....

राज्यपालों को नसीहत 

दिल्ली में देश भर के राज्यपालों और केंद्र शासित प्रदेशों के उप राज्यपालों का दो दिन का सम्मेलन हुआ। राष्ट्रपति भवन में आयोजित इस सम्मेलन में और पढ़ें....

भाजपा के लिए जरूरी विभीषण!

भारतीय जनता पार्टी की नजर सभी कांग्रेस और लेफ्ट सहित सभी क्षेत्रीय पार्टियों में तोड़ फोड़ करने पर लगी है। 2014 का चुनाव नरेंद्र मोदी की सुनामी के नाम पर और पढ़ें....

संघ में बेचैनी कितनी?

जवाब मुश्किल है। मौटे तौर पर लगता है जैसे मोदी भक्त आम समर्थकों का मूड मोहभंग, बैचेनी, निराशा, तकलीफ व सफाई वाला है, वही मनोभाव संघ प्रचारकों का भी है। कुछ और पढ़ें....

संघ में जेटली बनाम मोदी बनाम राज

संघ में नरेंद्र मोदी बनाम अरुण जेटली की इमेज में क्या कुछ राय होगी? आम तौर पर अरुण जेटली पर ठिकरा फूटा हुआ है। मजदूर संघ, किसान संघ, लघु-मझौले उद्योगों के और पढ़ें....

सुप्रीम कोर्ट को देनी पड़ी सफाई!

देश की सर्वोच्च अदालत ने सफाई दी। उत्तर प्रदेश के सपा नेता आजम खां के एक बयान से जुड़े मामले की सुनवाई कर रही चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की बेंच में शामिल और पढ़ें....

युद्ध की बातें भला क्यों?

सेना को हर किस्म की राजनीति से ऊपर रखा जाता है। भारत में कम से कम दो ऐसी संस्थाएं हैं – न्यायपालिका और सेना, जिसकी विश्वसनीयता आम लोगों के बीच बची हुई है। और पढ़ें....

← Previous 123456789
(Displaying 1-10 of 225)

© 2016 nayaindia digital pvt.ltd.
Maintained by Netleon Technologies Pvt Ltd