nayaindia फिर कष्टकारी होता कोरोना...!
गेस्ट कॉलम | देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| फिर कष्टकारी होता कोरोना...!

फिर कष्टकारी होता कोरोना…!

भोपाल। प्रदेश में महानगरों के साथ-साथ छोटे जिलों और छोटे बच्चों में भी कोरोना संक्रमण बढ़ने लगा है। मंत्रालय से लेकर गलियों तक पहुंच गया है। तेजी से बढ़ते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए सरकार ने गाइडलाइन जारी की है। जिससे अब शादी में 250 और अंतिम संस्कार में केवल 50 लोग ही भाग ले सकेंगे।

दरअसल, कोरोनावायरस की तीसरी लहर तेजी से असर दिखा रही है। कहीं-कहीं एक दिन में दुगने केस आ रहे हैं। खासकर इंदौर भोपाल मैं बहुत तेजी से संक्रमण फैल रहा है संक्रमण तो सागर जैसे छोटे जिले में भी पांव पसारने लगा है। जहां एक दिन में 10 नये मामले सामने आए हैं जिनमें 8 और 10 वर्ष के बालक बालिका भी शामिल हैं। यहीं पर परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत भी क्वॉरेंटाइन है जिनकी मंगलवार शाम को कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

तीसरी लहर की चपेट में मंत्रालय भी बहुत जल्दी आ गया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री की बैठक में शामिल रहे अपर मुख्य सचिव जेएन कंसोटिया भी कोरोनावायरस आए हैं। शाम को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई जबकि वे दिनभर विभागीय बैठकों में अधिकारियों के साथ शामिल होते रहे। वह विभागों की समीक्षा करने के लिए मुख्यमंत्री के साथ भी बैठक में शामिल रहे।

बहरहाल, प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना के आंकड़े भयावह होते जा रहे हैं और यदि यही रफ्तार रही तो अगले एक हफ्ते में प्रतिबंध और भी बढ़ाने पढ़ेंगे। फिलहाल बुधवार को मुख्यमंत्री ने कोरोना की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की एवं इसके बाद सख्ती बढ़ाने के निर्देश दिए। जिसके तहत राज्य शासन ने कुछ निर्देश जारी किए जिसमें सभी प्रकार के मेले जिनमें जनसमूह एकत्रित होता है प्रतिबंधित रहेंगे। विवाह आयोजनों में दोनों पक्ष के मिलाकर अधिकतम 250 लोगों की उपस्थिति की अनुमति रहेगी। आयोजन के दौरान मास्क सोशल डिस्टेंसिंग सैनिटाइजर के इस्तेमाल का पालन अनिवार्य किया जाएगा। अंतिम संस्कार या उठावना में अधिकतम 50 लोगों की ही अनुमति दी जा सकेगी। इसके बावजूद भी यदि कोरोना संक्रमण के मरीज बढ़ते हैं तो फिर और भी पाबंदियां बढ़ाई जाएंगी। जिसमें स्कूल कॉलेज भी बंद किए जाएंगे और ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की जाएगी। जरूरी हुआ तो लाक डाउन भी लगाया जा सकता है।

कुल मिलाकर देश में जहां कोरोना महामारी की तीसरी लहर बेकाबू होती जा रही है। पिछले 24 घंटों में ही देश में कोरोनावायरस के 58000 से ज्यादा नए के सामने आए हैं। वहीं 500 से ज्यादा लोगों की मौत भी हो गई है। ओमीकोन वेरिएंट की भी दो हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। कई राज्यों में पाबंदियां बढ़ा दी गई है। रात का कर्फ्यू लगाया गया है। ऐसे में प्रदेश में भी कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले खतरनाक होते जा रहे हैं।
पहेली और दूसरी लहर में खामियाजा भुगत चुके लोग अभी भी लापरवाही बरत रहे हैं। भीड़भाड़ वाले इलाकों में ना तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है नाही लोग मास्क लगा रहे हैं और सैनिटाइज करना तो जैसे भूल ही गए हैं। ऐसे में ना केवल कोरोना की रफ्तार बढ़ेगी बरन स्थिति बेकाबू भी हो सकती है। अभी भी समय है लोग सतर्क एवं सावधान हो जाएं जिससे कि कर्फ्यू और संपूर्ण लाक डाउन जैसी स्थिति का सामना ना करना पड़े क्योंकि आर्थिक गतिविधियां भी प्रभावित होती है।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published.

eleven + 1 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ज्ञानवापी का फैसला जिला जज करेंगे
ज्ञानवापी का फैसला जिला जज करेंगे