nayaindia Urban Body Elections Panchayati Raj पंचायती राज और नगरीय निकाय चुनाव
गेस्ट कॉलम | देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| Urban Body Elections Panchayati Raj पंचायती राज और नगरीय निकाय चुनाव

पंचायती राज और नगरीय निकाय चुनाव

भोपाल। प्रदेश में पंचायती राज और नगरीय निकाय की चुनाव एक साथ हो रहे है जिससे ग्रामीण और शहरी क्षेत्र की ताशीर पता लग रही है। पंचायती राज के प्रथम चरण के मतदान के बाद जिस तरह के रूझान सामने आ रहे हैं उससे दोनों ही दलों के दिग्गज नेता नगरीय निकाय के लिए सावधान हो गए है क्योंकि नगरीय निकाय के चुनाव दलिय आधार पर हो रहे हैं पंचायत चुनाव में तो जो भी जीता उसे सत्ता की तरफ जाना है केवल उन विशेष नेताओं को छोड़कर जो दिग्गज भाजपा नेताओं को चुनाव हरा रहे हैं। जैसा कि विंध्य क्षेत्र में भाजपा नेता और विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम के बेटे एवं पूर्व मंत्री जुगल किशोर बागरी की बहू रुझान में पीछे चल रही है।

बहरहाल, प्रदेश में तीसरी पंचायत चुनाव के अंतर्गत 25 जून को पहले चरण का मतदान हुआ जिसमें पंच, सरपंच, जनपद सदस्य और जिला पंचायत सदस्य के लिए मतदान किया गया और जहां कोई विवाद नहीं था वहां मतदान केंद्र पर ही मतगणना की गई और जो परिणाम आ रहे हैं वह दिग्गज नेताओं को सतर्क करने वाले हैं क्योंकि कुछ जगह दिग्गज नेताओं के परिजन और समर्थक पीछे चल रहे हैं जबकि सामान्य कार्यकर्ता आगे चल रहे हैं। मसलन विन्ध्य क्षेत्र में चौकाने वाले रुझान सामने आ रहे हैं। जहां विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम के पुत्र राहुल गौतम लगभग चुनाव हार गए हैं। गौतम के ही भतीजे पद्मेश निर्णायक बढ़त बना चुके हैं।

इसी तरह पूर्व मंत्री जुगल किशोर बागरी की बहू भी पिछड़ चुकी है जबकि कांग्रेस नेता एवं पूर्व विधायक प्रेम सिंह के दामाद संजय सिंह आगे चल रहे हैं। भोपाल में जिला ग्रामीण कांग्रेस के अध्यक्ष अवनीश भार्गव के पक्ष में बताए जा रहे हैं। इसी तरह बुंदेलखंड में केसली ब्लॉक में भाजपा नेता और पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष राजकुमार बरकोटी लगभग चुनाव हार चुके हैं, घोषणा होना बाकी है। यहां से देवेंद्र सिंह चुनाव जीत रहे हैं। इसी वार्ड से पूर्व विधायक रतन सिंह लोधी के पुत्र इंदराज सिंह लोधी को भी करारी पराजय का सामना करना पड़ा है। केसली के ही एक अन्य वार्ड से पूर्व जिला पंचायत सदस्य पूरन आदिवासी लगभग चुनाव हार गए।

इसी तरह रहली विधानसभा क्षेत्र में रानी पटेल कुशवाहा, कल्पना उदय भान लोधी, संतोष पटेल और देवेन्द्र ठाकुर अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वियों से आगे बताए जा रहे हैं। जिससे कांग्रेस नेता और पूर्व जिला पंचायत सदस्य जीवन पटेल के पुत्र योगेश पटेल लगभग चुनाव हार गए हैं। वहीं पूर्व जिला पंचायत सदस्य ज्योति पटेल भी अभी तक मिले रुझानों में पीछे चल रही है। इस क्षेत्र के चारों सीटों पर जो प्रत्याशी आगे चल रहे हैं उनके पक्ष में भाजपा नेता अभिषेक भार्गव ने खुलकर चुनाव प्रचार किया था कुछ जगह पर केंद्रीय मंत्री पहलाद पटेल भी शामिल हुए थे।

कुल मिलाकर पंचायती राज के प्रथम चरण के मतगणना के जिस तरह से रुझान सामने आ रहे हैं और कई जगह दिग्गज नेता बिछड़ते नजर आ रहे हैं। उसके बाद दोनों ही दलों के पार्टी नेता नगरीय निकाय के चुनाव के लिए सतर्क हो गए हैं क्योंकि यह चुनाव तनी आधार पर हो रहे हैं और तूफानी दौरे शुरू कर दिए हैं हर दिन रोड शो और सभाएं हो रहे हैं। रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सागर में थे उन्होंने वहां रोड शो किया और पत्रकार वार्ता के माध्यम से भाजपा सरकार पर हमला भी बोले। अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज सोमवार को सागर पहुंच रहे हैं और वहां भी रोड-शो करेंगें। इसके पहले सुबह मुख्यमंत्री निवास पर पंचायतीराज और नगरीय निकाय चुनाव में निर्विरोध जीते जनप्रतिनिधियों का सम्मान किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.

15 + 18 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मनुष्य परिवार से ही सामाजिक प्राणी हैं – प्लेटो को नकारा गया है..
मनुष्य परिवार से ही सामाजिक प्राणी हैं – प्लेटो को नकारा गया है..