nayaindia UP Akhilesh yadav अखिलेश नहीं संभाल पाए अपना कुनबा और सहयोगी!
kishori-yojna
देश | उत्तर प्रदेश | गेस्ट कॉलम| नया इंडिया| UP Akhilesh yadav अखिलेश नहीं संभाल पाए अपना कुनबा और सहयोगी!

अखिलेश नहीं संभाल पाए अपना कुनबा और सहयोगी!

shivpal yadav azam khan
Image Source : Socil Media

लखनऊ। राष्ट्रपति चुनाव के लिए संसद और देश के सभी राज्यों की विधानसभाओं में सोमवार को मतदान हुआ। इस दौरान उत्तर प्रदेश में एनडीए ने एक तरफ अपना कुनबा इस चुनाव में मजबूत करके दिखाया है तो वहीं विपक्षी खेमे को क्रॉस वोटिंग का सामना करना पड़ा है। समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया अखिलेश यादव अपना कुनबा और सहयोगी दलों को संभाल नहीं सके। परिणाम स्वरूप अखिलेश यादव के चाचा और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने खुलेआम द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया है। सपा के विधायक शहजिल इस्लाम और उनके कुछ अन्य साथियों के भी द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में मतदान करने की चर्चा है। सपा के सहयोगी दल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) ने भी द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में मतदान किया।

यहीं नहीं बीता विधानसभा चुनाव सपा के साथ मिलकर लड़ने वाले सुभासपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने यशवंत सिन्हा को वोट ना देने के बाद अखिलेश यादव पर जमकर तंज कसे। शिवपाल यादव ने भी अखिलेश के यशवंत सिन्हा को वोट देने के फैसले की अनदेखी कर उनको आड़े हाथों लिया। शिवपाल ने कहा कि नेताजी (मुलायम यादव) को आईएसआई एजेंट कहने वाले (विपक्ष के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा) का कभी समर्थन नहीं कर सकते। और नेताजी (मुलायम सिंह) के सिद्धांतों का पालन करने वाले सपा के कट्टर नेता मुलायम सिंह पर आरोप लगाने वाले यशवंत सिन्हा का कभी समर्थन नहीं करेंगे। अखिलेश यादव के प्रति कुछ ऐसा ही रुख सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने अपनाया। राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना वोट डालकर बाहर निकले ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि अखिलेश यादव टेंशन में हैं और हमें तथा शिवपाल यादव को सपा से तलाक का इंतजार है। हम सपा के साथ अपनी तरफ से गठबंधन नहीं तोड़ेंगे। ओम प्रकाश ने दावा किया किया कि एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू बड़ी जीत दर्ज करेंगी।

उत्तर प्रदेश में कुल 396 विधायकों ने राष्ट्रपति चुनाव में वोटिंग की है। इसके अलावा पांच विधायकों ने दूसरे राज्य में अपना मतदान किया है। सपा विधायक नाहिद हसन जेल में होने के कारण और सपा विधायक अब्बास अंसारी का गिरफ्तारी वारंट होने की वजह से वोट नहीं पड़ सका है। इसके अलावा कुछ विधायकों की क्रॉस वोटिंग की भी खबर सामने आई है। ऐसी ही खबरों के बीच में सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सुभासपा प्रमुख ओपी राजभर और अपने चाचा शिवपाल यादव पर खुलकर हमला बोला। अखिलेश यादव ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में साजिश रची गई है। इसी के तहत पहले दो डिप्टी सीएम ने ट्वीट किया और चाचा शिवपाल ने चिट्ठी लिखी है। दिल्ली से चिट्ठी पॉलिटिक्स की गई।

चाचा से चिट्ठी लिखवाई गई। सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर के गठबंधन तोड़ने पर अखिलेश ने कहा कि ओपी राजभर जो फैसला लेना है वो ले सकते हैं। जाने वाले को कौन रोक सकता है। अब देखना यह है कि ओम प्रकाश राजभर भाजपा के खेमे में जाते हैं या वह बसपा के साथ खड़े होते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 + 11 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
तंजानिया में सड़क दुर्घटना 17 लोगों की मौत, 12 घायल
तंजानिया में सड़क दुर्घटना 17 लोगों की मौत, 12 घायल