Loading... Please wait...

वेंकैया नायडू उप राष्ट्रपति उम्मीदवार!

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने अपने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू को को उप राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने वेंकैया नायडू के नाम का ऐलान किया। वे मंगलवार को नामांकन दाखिल करने के आखिरी दिन परचा भरेंगे। माना जा रहा है कि दक्षिण भारत में पार्टी का आधार मजबूत करने की राजनीति के तहत भाजपा ने उनको उम्मीदवार बनाने का फैसला किया है।

वेंकैया नायडू को उप राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चा सोमवार की सुबह से ही चल रही थी। लेकिन घोषणा शाम साढ़े छह बजे हुए संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई संसदीय बोर्ड की बैठक में उनका नाम तय किया गया। उनके नाम की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनको बधाई दी और तारीफ करते हुए कहा कि वे बिल्कुल सही उम्मीदवार हैं।

इससे पहले अमित शाह ने भाजपा मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा कि भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में एनडीए के उप राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में वेंकैया नायडू का चयन किया गया। उन्होंने बताया कि वेंकैया मंगलवार की सुबह 11 बजे उप राष्ट्रपति पद के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। भाजपा अध्यक्ष ने बताया कि इस बारे में एनडीए के सभी सहयोगियों को बताया गया है और सभी ने इसका स्वागत किया है।

उन्होंने कहा - वेंकैया नायडू आज देश के वरिष्ठतम नेताओं में से एक है और इसलिए संपूर्ण राजग ने उनके नाम का स्वागत किया है। भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में सभी सदस्यों ने हिस्सा लिया और बैठक समाप्त होने के बाद शाह ने इसकी घोषणा की। शाह ने कहा कि वेंकैया नायडू पार्टी के वरिष्ठतम नेता हैं और उन्होंने आपना सार्वजनिक जीवन 1970 से शुरू किया था। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से आगे बढ़ते हुए उन्होंने जेपी आंदोलन में सक्रियता से हिस्सा लिया।

वेंकैया नायडू आंध्र प्रदेश भाजपा युवा इकाई के अध्यक्ष भी रहे हैं और भाजपा महासचिव और दो बार भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे। वे चार बार राज्य सभा के सदस्य रहे। वे अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे और अभी शहरी विकास व सूचना प्रसारण मंत्री हैं। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि एक किसान परिवार से आने वाले वेंकैया नायडू ने छोटे पदों से आगे बढ़ते हुए देश की सेवा की। एक सवाल के जवाब में शाह ने कहा कि विपक्ष ने पहले ही उप राष्ट्रपति पद के लिए अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है और अगर उन्हें आम सहमति बनानी होती तो वे थोड़ा इंतजार करते। गौरतलब है कि कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों ने गोपाल कृष्ण गांधी को उप राष्ट्रपति पद के लिए अपना साझा उम्मीदवार बनाया है।

Tags: , , , , , , , , , , , ,

141 Views

आगे यह भी पढ़े

सर्वाधिक पढ़ी जा रही हालिया पोस्ट

बेटी को लेकर यमुना में कूदा पिता

उत्तर प्रदेश में हमीरपुर शहर के पत्नी और पढ़ें...

पाक सेना प्रमुख करेंगे जाधव पर फैसला!

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय और पढ़ें...

© 2016 nayaindia digital pvt.ltd.
Maintained by Netleon Technologies Pvt Ltd