रिटायर हो गया क्षुद्रग्रहों का अध्ययन करने वाला अंतरिक्षयान ‘डॉन’

वाशिंगटन। क्षुद्रग्रहों की पट्टी में दो सबसे बड़े क्षुद्रग्रहों का अध्ययन करने और 11 साल तक अपनी सेवाएं देने के बाद नासा के अंतरिक्ष यान डॉन अब रिटायर हो गया है। डॉन का ईंधन खत्म होने के कारण उसे सेवा से मुक्त किया गया है।

वैज्ञानिकों को पिछले एक महीने से इसकी जानकारी थी कि डॉन का ईंधन हाइड्राजिन समाप्त हो रहा है। यह ईंधन डॉन के एंटीना को धरती की तरफ बनाए रखने और उसके सौर पैनलों को रीचार्ज के लिए सूरज की ओर घुमाने में मदद करता था।

डॉन बुधवार और बृहस्पतिवार को नासा के डीप स्पेस नेटवर्क के साथ संपर्क साधने में विफल रहा, जिसके बाद उसे औपचारिक रूप से रिटायर घोषित कर दिया गया। नासा का कहना है कि हमने डॉन पर बहुत ज्यादा काम का बोझ डाला था, लेकिन उसने सभी काम बखूबी पूरे किए। इतने अच्छे अंतरिक्ष यान को रिटायर करना आसान नहीं है।

257 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।