होटल मैनेजमेंट में करियर की संभावनाएं

अगर आपको नए-नए लोगों से मिलना और उनसे बातें करना अच्छा लगता है तो आपके लिए होटल मैनेजमेंट एक बेहतरीन करियर विकल्प हो सकता है। आज के समय में होटल मैनेजमेंट एक बेहतरीन करियर ऑप्शन बनकर हमारे सामने उपलब्ध हुआ है।

दरअसल दुनिया भर के टूरिस्ट को दुनिया घूमने, देखने, जानने और समझने में सहयोग करने में होटल इंडस्ट्री ने बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। किसी बड़े होटल या होटल के व्यवसाय को सफलता पूर्वक चलाना ही होटल मैनेजमेंट कहलाता है। आज होटल मैनेजमेंट सिर्फ एक होटल तक ही सिमित नही रह गया है बल्कि इसका दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है अब होटल इंडस्ट्री में रिसॉर्ट्स, एयरलाइंस, क्रूज, क्लब, कैफे, रेस्तरां आदि आते हैं।

अगर आप होटल मैनेजमेंट में कोई डिग्री या डिप्लोमा करते है तो आपके लिए इस फील्ड में करियर की न सिर्फ बेहतरीन संभावनाएं है बल्कि आप कम समय में इस फील्ड में काफी अच्छी पोजिशन भी हासिल कर सकते है। अगर आप होटल मैनेजमेंट से जुड़े करियर में जाना चाहते है तो आज हम आपको इस करियर से जुड़े कोर्स, सैलरी, जॉब, प्लेसमेंट और प्रमुख संस्थानों के बारे में बताने जा रहे है।

होटल इंडस्ट्री में कई तरह का काम होता है। लेकिन आपको कौन सा काम पसंद है आप किस काम में अपना करियर बना सकते हैं उसका चुनाव बहुत जरूरी है। होटल मैनेजमेंट के तीन साल के कोर्स में यह तय करना होता है आपको किस क्षेत्र में आगे बढ़ना है। जिस किसी भी क्षेत्र में आपकी रूचि है उसे चुनें।

किस तरह होते हैं कोर्स?

होटल मैनेजमेंट से संबंधित कई कोर्स होते हैं जैसे : बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट (BHM), बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (BBA), बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी (BHMCT)।

होटल इंडस्ट्री में आपके लिए कई ऑप्शन हैं। आप चाहें, तो मैनेजमेंट, मार्केटिंग आदि में करियर बना सकते हैं। आइए जानते हैं कहां कहां है आपके लिए ऑप्शन

मैनेजमेंटः

किसी भी बड़े होटल को सुचारू रूप से चलाने की जिम्मेदारी मैनेजमेंट पर ही होती है। साथ ही वे इस बात पर भी ध्यान रखते हैं कि कैसे होटल का रेवेन्यू बढ़ाया जा सकता है। अलग-अलग विभागों के सहायक प्रबंधक अपने विभागों के कार्य पर निगरानी रखते हैं। बड़े होटलों में तो रेजिडेंट मैनेजर भी होते हैं।

फ्रंट ऑफिसः

फ्रंट ऑफिस में बैठने वाले कर्मचारी होटल में आने वाले अतिथियों का स्वागत करते हैं। यहां रिसेप्शन होता है, सूचना डेस्क होता है, अतिथियों के लिए आरक्षण की व्यवस्था देखने वाले होते हैं और बेलकैप्टन, बेल बॉय और डोरमैन होते हैं। ये लोग अतिथियों का सामान उनके कमरे में पहुंचवाने से लेकर उनको सूचनाएं भिजवाने का कार्य करते हैं। फूड एंड बेवरेजः इस विभाग में तीन ईकाइयां होती हैं- किचन, स्टीवर्ड विभाग और फूड सर्विस विभाग। इस विभाग के मैनेजर और कर्मचारी मिल कर इस विभाग की जिम्मेदारियों को निपटाते हैं। खाना बनाने से लेकर परोसने तक का काम यहां होता है। इससे जुड़ी हर चीज का रख-रखाव करना होता है।

हाउसकीपिंगः

किसी भी होटल को उम्दा किस्म की देखभाल की जरूरत होती है। हाउसकीपिंग विभाग सभी कमरों, मीटिंग हॉल, बैंक्वेट हॉल, लाउंज, लॉबी, रेस्तरां इत्यादि की साफ-सफाई की जिम्मेदारी उठाता है। हर चीज करीने से दिखनी चाहिए, यह इस विभाग के काम करने का मूलमंत्र है। यह होटल का बेहद महत्त्वपूर्ण विभाग है और 24 घंटे काम करता है। इसमें पालियों में काम होता है।

मार्केटिंग विभागः

आज होटल में उपलब्ध सेवाओं व सुविधाओं की मार्केटिंग होटल मैनेजमेंट का अहम पहलू है। यह विभाग संभावित ग्राहकों की जरूरतों के लिहाज से पैकेज तैयार करता है और उन्हें बेचता है। इनकी काबिलियत का ही प्रत्यक्ष लाभ होटल को मिलता है। बेहतर पैकेजिंग से आकर्षित होकर जितने ग्राहक आते हैं, वे होटल को न सिर्फ बिजनेस देते हैं, बल्कि दूसरों को भी बताते हैं।इन सबके अलावा होटल में भी अन्य वे विभाग होते हैं, जो दूसरे संगठनों या कंपनियों में होते हैं, जैसे अकाउंट्स, सिक्योरिटी, मेंटेनेंस इत्यादि।

- इसके अलावा डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट, सर्टिफिकेट इन होटल मैनेजमेंट के कोर्स भी होते हैं।

- ग्रैजुएकेशन के बाद MSc इन होटल मैनेजमेंट, MBA इन होटल मैनेजमेंट, PG डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स होते हैं।

मिनिमम क्राइटेरिया :

किसी भी स्ट्रीम का स्टूडेंट यह कोर्स कर सकता है। होटल मैनेजमेंट में ग्रैजुएशन या डिप्लोमा जैसे कोर्स करने के लिए 12वीं में किसी भी स्ट्रीम में 45 से 50 फीसदी तक मार्क्स होने चाहिए।

  • होटल प्रबंधन पाठ्यक्रम शुल्क
  • होटल मैनेजमेंट प्राइवेट कॉलेज शुल्क रु .50,000 से 100,000 प्रति वर्ष हो सकता है।
  • होटल प्रबंधन सरकारी कॉलेज शुल्क रुपये 40,000 रुपये से 50,000 प्रति वर्ष हो सकता है।
  • होटल प्रबंधन के लिए सर्वश्रेष्ठ संस्थान
  • अम्बेडकर इंस्टिट्यूट ऑफ होटल मैनेजमैंट, चंडीगढ़
  • होटल प्रबंधन संस्थान, कोलकाता
  • होटल प्रबंधन संस्थान, बैंगलोर
  • होटल प्रबंधन संस्थान, गोवा
  • होटल प्रबंधन संस्थान, जोधपुर
  • होटल प्रबंधन संस्थान, लखनऊ
  • होटल प्रबंधन संस्थान, भोपाल
  • होटल प्रबंधन संस्थान, चेन्नई
  • होटल प्रबंधन संस्थान, नई दिल्ली
  • होटल प्रबंधन संस्थान, गुवाहाटी
  • होटल प्रबंधन संस्थान, गंगटोक
  • होटल प्रबंधन संस्थान, भुवनेश्वर
  • होटल प्रबंधन संस्थान, गांधीनगर
  • दिल्ली इंस्टिट्यूट ऑफ होटल मैनेजमैंट, नई दिल्ली
  • होटल प्रबंधन संस्थान, खानपान प्रौद्योगिकी और एप्लाइड पोषण, मुंबई
303 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।