अब आंधी-बिजली की पूर्व चेतावनी

नई दिल्ली। आँधी-बिजली से पिछले साल उत्तरी भारत में जान-माल की भारी क्षति के मद्देनजर देश के मौसम वैज्ञानिकों ने इसकी पूर्व चेतावनी की प्रणाली तैयार कर ली है और अप्रैल से मोबाइल ऐप के जरिये आम लोगों को यह चेनावनी मिलनी शुरू हो जायेगी।

पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन ने सोमवार को यहाँ संवाददाताओं को बताया कि पिछले साल मानसून से पहले बड़े पैमाने पर बिजली गिरने के साथ तेज आँधी की घटनायें सामने आयी थीं जिनमें दो सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी थी। इनमें संपत्ति का भी भारी नुकसान हुआ था। उन्होंने बताया कि भारतीय मौसम विभाग ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रॉपिकल मिटिओरोलॉजी (आईआईटीएम) के वैज्ञानिकों ने मिलकर ऐसी प्रणाली विकसित की है जो बिजली गिरने और उसके साथ आँधी का पूर्वानुमान जारी करने में सक्षम है। इसका ऐप इस साल अप्रैल तक जारी कर दिया जायेगा। डॉ. हर्षवर्द्धन ने बताया कि बिजली गिरने की रियल टाइम जानकारी देने के लिए देश भर में 48 लाटनिंग सेंसर लगाये गये हैं। यह जानकारी ‘दामिनी ऐप पर आम लोगों को मिलनी शुरू भी हो गयी है। पृथ्वी विज्ञान सचिव माधवन राजीवन ने बताया कि यह जानकारी दो चरणों में उपलब्ध होगी। पहले चरण में आँधी-बिजली की संभाविता बतायी जायेगी। करीब 12 घंटे पहले इसकी जानकारी दी जा सकेगी। इसके बाद छह घंटे का पूर्वानुमान जारी किया जायेगा। यह किसी शहर के क्षेत्र विशेष के लिए होगा जिसमें बताया जायेगा कि फलाँ क्षेत्र में अगले छह घंटे में बिजली गिरने की आशंका है। डॉ. राजीवन ने यूनीवार्ता को बताया कि इस पूर्वानुमान को जारी करने में कई तरह के आँकड़ों का सहारा लिया जायेगा।

बादल का आकार, घनत्व, उसका आयनिक ध्रुवीकरण आदि के विश्लेषण के आधार पर पूर्वानुमान तैयार होगा। उन्होंने बताया कि बादल के भीतर हजारों की संख्या में बिजली कड़कती रहती है। उनमें से बिजली के जमीन तक पहुँचने की कितनी संभावना है, यह इस प्रणाली के माध्यम से तय करने की कोशिश की जा रही है। डॉ. हर्षवर्द्धन ने बताया कि इसके अलावा मौसम की समग्र जानकारी और चेतावनी आम लोगों को उपलब्ध कराने के लिए भी एक ऐप विकसित किया जा रहा है। यह इस साल जून से एंड्रायड प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध करा दिया जायेगा।

328 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।