राजनाथ ने शहीदों के परिजनों को सम्मानित किया

नई दिल्ली।  शहीद जवानों की याद में 'विजय दिवस' के अवसर पर रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीद जवानों के परिजनों को सम्मानित किया। दिल्ली कैंट, परेड ग्रांउड स्थित एनसीसी ऑडिटोरियम में वेटरंस इंडिया द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में शहीद जवान हवलदार जोरावर सिंह के पिता राजवीर सिंह एवं अन्य शहीद जवानों के परिजनों को शॉल पहनाकर सम्मानित किया गया एवं आर्थिक मदद दी गई। इनमें त्रिवेणी देवी, बलराम सिंह, बिमला देवी, राममूर्ति देवी, राज सिंह, सुरेन्द्र कुमार एवं सुधा देवी शामिल थे।

इस अवसर पर राजनाथ सिंह ने वेटरंस इंडिया को इस कार्यक्रम के लिए सराहा एवं शहीद जवानों को याद किया। उन्होंने कहा, "विजय दिवस को हम 1971 के पाकिस्तान के साथ युद्ध में विजय एवं शहीद हुए जवानों की याद में मनाते हैं। उनके बलिदान का पैसों के आधार पर मूल्यांकन नहीं किया जा सकता। वेटरंस इंडिया देश के नौजवानों में राष्ट्रीय स्वाभिमान, राष्ट्रवाद एवं देशभक्ति बढ़ा रहा है जो देश निर्माण में महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना अपनी एकता एवं अखंडता की बदौलत पूरे विश्व में पराक्रमी एवं जिम्मेदारी की मिसाल है। उन्होंने यह भी कहा कि मैं शहीद जवानों के लिए अपनी एक महीने की तनख्वाह वेटरंस इंडिया फंड में जमा करूंगा।

वेटरंस इंडिया के अध्यक्ष विनय कुमार मिश्रा ने कहा, "संगठन पूरे देश में हर एक व्यक्ति के मन में राष्ट्रवाद एवं देशभक्ति की सोच पैदा कर उसे राष्ट्र निर्माण में लगाने के लिए एक योजना तैयार करेगा जो एनसीसी, डिजास्टर मैनेजमेंट, स्काउट एवं गाइड, फस्र्ट एड एवं राष्ट्रवाद एवं देशभक्ति की सोच का मिश्रण होगा। साथ ही देश के हर स्तर के विद्यार्थी तक इसे व्यावहारिक रूप में पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा।

इससे राष्ट्रवाद एवं देशभक्ति को काफी मजबूती मिलेगी।कार्यक्रम में रक्षक सिक्योरिटी के चेयरमैन विनय सिंह, एस्ट्टूट करियर काउंसलिंग एकेडमी के चेयरमैन डॉ. तुषार विनोद देवरस, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. अर्चना धवन बजाज, बी4एस सोल्यूसन्स प्रा. लि. के निदेशक आर के शर्मा को 'प्राइड ऑफ नेशन' अवार्ड से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में मेजर जी डी बक्शी एवं 1971 के युद्ध में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से शामिल हुए योद्धाओं सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।

 

81 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।