कॉलेजियम ने उच्च न्यायालय के 2 न्यायाधीशों की पदोन्नति की सिफारिश की

नई दिल्ली। सर्वोच्च न्यायालय के कॉलेजियम ने कर्नाटक उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश दिनेश माहेश्वरी और दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीश संजीव खन्ना को पदोन्नत कर शीर्ष अदालत में न्यायाधीश बनाने की सिफारिश की है।

प्रधान न्यायाधीश, न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अध्यक्षता में 10 जनवरी को कॉलेजियम की हुई बैठक में यह फैसला लिया गया, जिसमें पिछले 12 दिसंबर को पिछले कॉलेजियम द्वारा की गई सिफारिशों पर पुनर्विचार किया गया। सर्वोच्च न्यायालय में न्यायाधीशों की स्वीकृत संख्या 31 है, जबकि न्यायालाय में पांच सीटें खाली हैं। इनमें से दो रिक्तियों को भरने की सिफारिश की गई है।

12 जनवरी की बैठक में, कॉलेजियम ने उच्च न्यायालयों के सभी मुख्य न्यायाधीशों और वरिष्ठ न्यायाधीशों के नामों पर चर्चा की, जो पदोन्नत होकर सर्वोच्च न्यायालय में जाने के पात्र थे। कॉलेजियम ने न्यायमूर्ति माहेश्वरी और न्यायमूर्ति खन्ना के नाम की सिफारिश करने का फैसला करते हुए कहा, "कॉलेजियम का मानना है कि सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में नियुक्त होने के लिए ये दोनों उच्च न्यायालय के अन्य न्यायाधीशों व वरिष्ठ न्यायाधीशों के मुकाबले ज्यादा हकदार और उपयुक्त हैं।"  न्यायमूर्ति गोगोई के अलावा, कॉलेजियम की बैठक में न्यायमूर्ति ए. के. सीकरी, न्यायमूर्ति एस.ए, बोबडे, न्यायमूर्ति एन.वी. रमना और न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा शामिल हुए।

134 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।