nayaindia International Yoga Day पहाड़ों की बर्फीली चोटियों से समुद्र तक छाया योग
दिल्ली

पहाड़ों की बर्फीली चोटियों से समुद्र तक छाया योग

ByNI Desk,
Share

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने जम्मू-कश्मीर में आयोजित मुख्य कार्यक्रम का नेतृत्व किया। वहीं, तीनों भारतीय सेनाओं और अर्धसैनिक बलों ने ऊंची बर्फीली चोटियों से लेकर समुद्र तक विभिन्न स्थलों पर योगाभ्यास किया। सिक्किम स्थित मुगुथांग सब सेक्टर में 10वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 15 हजार फीट से अधिक की ऊंचाई पर योगाभ्यास किया गया। यहां आईटीबीपी (ITBP) के जवानों ने योगासन किए। जवानों ने लेह के पैंगोंग त्सो में भी योग किया। भारतीय सेना के जवान देश की उत्तरी सीमा पर स्थित बर्फीली चोटियों पर योग करते दिखे। सेना के जवानों ने पूर्वी लद्दाख में भी योग किया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) और सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे भी योग कार्यक्रमों में शामिल हुए।

दिल्ली में नौसेना प्रमुख एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी (Dinesh K. Tripathi) ने योग किया। इस साल योग दिवस की थीम “स्वयं और समाज के लिए योग” है जो व्यक्तिगत तंदुरुस्ती और सामाजिक सद्भाव को बढ़ावा देने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करती है। दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में योगासन करने के उपरांत केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा (J.P. Nadda) ने कहा कि उन्हें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योग प्रेमियों के साथ अभ्यास करने का अवसर मिला है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में योग विश्व के कोने-कोने तक पहुंच गया है। दिल्ली में विदेश मंत्री एस. जयशंकर, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, किरेन रिजिजू समेत कई केंद्रीय मंत्रियों ने योग किया। दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने भी योग किया।

इन कार्यक्रमों का उद्देश्य योग के अभ्यास के माध्यम से वैश्विक स्वास्थ्य (Global Health) और तंदुरुस्ती को बढ़ावा देने के संदेश के साथ हजारों प्रतिभागियों को एक साथ लाना है। इससे पहले योग के लाभों की समग्रता को अधिक से अधिक बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने सभी ग्राम प्रधानों को एक पत्र भी लिखा था, जिसमें कहा गया था मैं आपसे जमीनी स्तर पर योग और मोटे अनाजों के बारे में अधिक जागरूकता फैलाकर समग्र स्वास्थ्य को जनांदोलन बनाने का आग्रह करता हूं। वर्ष 2015 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) की शुरुआत के बाद से ही प्रधानमंत्री इसके प्रचार में अहम भूमिका निभाते रहे हैं। उन्होंने दुनिया भर के विभिन्न प्रतिष्ठित स्थानों पर योग दिवस के आयोजनों की मेजबानी की है, जिनमें दिल्ली का कर्तव्य पथ, चंडीगढ़, देहरादून, रांची, लखनऊ, मैसूरु और न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय शामिल हैं।

 यह भी पढ़ें:

योग के रंग में रंगा मध्य प्रदेश

सीने में दर्द की शिकायत के बाद आसाराम जोधपुर एम्स में भर्ती

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें