nayaindia Kathua Operation कठुआ में 20 घंटे चले ऑपरेशन में दो आतंकी ढेर
जम्मू

कठुआ में 20 घंटे चले ऑपरेशन में दो आतंकी ढेर

ByNI Desk,
Share

जम्मू। जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में छिपे आतंकवादियों के खिलाफ ऑपरेशन में दो आतंकी मारे गए और सीआरपीएफ (CRPF) का एक जवान शहीद हो गया। जम्मू जोन के एडीजीपी आनंद जैन ने बताया कि मुठभेड़ मंगलवार शाम को शुरू हुई और बुधवार दोपहर तक चली। एडीजीपी (ADGP) ने कहा कि मंगलवार को एक आतंकी मारा गया था। वहीं बुधवार एक और आतंकवादी मारा गया। मुठभेड़ में हमने एक सीआरपीएफ जवान भी खो दिया है। मारे गए लोग हाल ही में घुसपैठ करने वाले एक समूह का हिस्सा थे। हमने ऑपरेशन बंद नहीं किया है। इलाके में कुछ और आतंकी छिपे हो सकते हैं। एडीजीपी ने कहा अस्पताल में दम तोड़ने वाले सीआरपीएफ जवान की पहचान 121 बटालियन के कांस्टेबल कबीर दास (Kabir Das) के रूप में हुई है।

मुठभेड़ में घायल हुए नागरिक की हालत स्थिर है और वह खतरे से बाहर है। उन्होंने बताया कि कठुआ के हीरानगर इलाके के सैदा सोहल गांव में मुठभेड़ हुई। दो आतंकी गांव में घुसे थे और कुछ घरों से पानी मांगा था। सूचना मिलते ही एसएचओ और एसडीपीओ की टीमें मौके पर पहुंचीं और गोलीबारी (Shootout) में एक आतंकवादी मारा गया। मारे गए आतंकियों के पास से ग्रेनेड, आईईडी, अमेरिका निर्मित एम4 कार्बाइन और अन्य युद्ध संबंधी सामान बरामद किया गया। बरामद सामान में 30 राउंड वाली तीन मैगजीन, 24 राउंड वाली एक मैगजीन, एक अलग पॉलीथीन बैग (Polythene Bag) में 75 राउंड, तीन जिंदा ग्रेनेड, एक लाख रुपये, पाकिस्तान निर्मित चॉकलेट, सूखा छेना और चपातियां समेत खाद्य सामग्री, पाकिस्तान निर्मित दवाइयां और दर्द निवारक इंजेक्शन, ए4 बैटरी सेल के दो पैक और एंटीना वाला एक हैंडसेट शामिल है।

इस बीच, हीरानगर इलाके में छिपे हुए आतंकियों ने पुलिस के वाहनों पर गोलीबारी की, जिसमें दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बाल-बाल बच गए। जम्मू-कठुआ-सांबा रेंज के डीआईजी डॉ. सुनील कुमार (Sunil Kumar) और कठुआ के एसएसपी अनायत चौधरी के वाहनों पर 20 से अधिक राउंड फायरिंग की गई। डोडा जिले के चत्तरगल्ला इलाके में एक अन्य मुठभेड़ के बारे में एडीजीपी जैन ने कहा ऑपरेशन जारी है और मुठभेड़ में घायल हुए सुरक्षाबल के जवानों की हालत स्थिर है।

यह भी पढ़ें:

कुवैत में भीषण अग्निकांड, इमारत में 40 लोग जलकर मरे

24 जून से शुरू होगा 18वीं लोकसभा का पहला सत्र

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें