nayaindia Kamal Nath भाजपा ने चुनाव में पैसा और प्रशासन का उपयोग किया: कमल नाथ
मध्य प्रदेश

भाजपा ने चुनाव में पैसा और प्रशासन का उपयोग किया: कमल नाथ

ByNI Desk,
Share
BJP Used Money And Administration In Elections Kamal Nath

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ (Kamal Nath0 ने लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर पैसे और प्रशासन के इस्तेमाल का आरोप लगाया है। उनका दावा है कि इसके बावजूद कांग्रेस के लिए अच्छे नतीजे आने वाले हैं। मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव होने के बाद कांग्रेस ने उम्मीदवारों के अलावा वरिष्ठ नेताओं की भोपाल में एक बैठक बुलाई। सोमवार को बुलाई गई बैठक में पहुंचे कमल नाथ ने साफतौर पर भाजपा पर आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र से लेकर हर सीट पर कोई कसर नहीं छोड़ी है। चुनाव में पैसे और प्रशासन का इस्तेमाल किया गया है। Kamal Nath

इसके बावजूद मतदान के बाद कांग्रेस (Congress) के लिए अच्छे नतीजे आने वाले हैं। लोकसभा चुनाव के बाद पार्टी ने समीक्षा के लिए प्रदेश प्रभारी महासचिव जितेंद्र भंवर सिंह (Jitendra Bhanwar Singh) की मौजूदगी में बैठक बुलाई। इस बैठक में सभी 27 सीटों के कांग्रेस उम्मीदवारों को बुलाया गया। बता दें कि कमल नाथ के पुत्र नकुल नाथ (Nakul Nath) ने दूसरी बार छिंदवाड़ा से लोकसभा चुनाव लड़ा है। पिछला चुनाव नकुल नाथ ने 38 हजार वोटों के अंतर से जीता था। बीते लगभग 45 साल से छिंदवाड़ा कमल नाथ के गढ़ के तौर पर पहचाना जाता है। यहां सिर्फ एक ही चुनाव में कमल नाथ को हार का सामना करना पड़ा था, इसके अलावा सभी चुनाव में कमल नाथ या उनके परिवार के सदस्य निर्वाचित हुए हैं। राज्य में लोकसभा की 29 सीटें हैं, इनमें से वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में कांग्रेस ने सिर्फ एक छिंदवाड़ा सीट पर ही जीत हासिल की थी।

जबकि, शेष 28 सीटों पर भाजपा (BJP) को जीत मिली थी। कांग्रेस लगातार दावा कर रही है कि इस बार के चुनाव में उसके हिस्से में बड़ी सफलता आने वाली है। वहीं, भाजपा राज्य की सभी सीटों पर जीत का दावा कर रही है। खजुराहो संसदीय सीट समझौते में सपा को दी गई थी। मगर, सपा उम्मीदवार का नामांकन निरस्त हो गया था। इंदौर के कांग्रेस उम्मीदवार ने नामांकन वापस लेकर भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। इस तरह 29 में से 27 सीटों पर ही कांग्रेस के उम्मीदवार मैदान में हैं। राज्य में चार चरणों में मतदान हुए हैं और नतीजे चार जून को आएंगे।

यह भी पढ़ें:

लाई चिंग ते ने ली ताइवान के नये राष्ट्रपति के रूप में शपथ

केजरीवाल पर हमला करा सकती है बीजेपी: संजय सिंह

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें