nayaindia RAJASTHAN BUDGET2024:काशी विश्वनाथ की राह पर राजस्थान का खाटूश्यामजी मंदिर...
राजस्थान

RAJASTHAN BUDGET2024:काशी विश्वनाथ की राह पर राजस्थान का खाटूश्यामजी मंदिर…

July 10, 2024

diya

अब प्रदेश का खाटूश्यामजी मंदिर भी काशी विश्वनाथ मंदिर की तरह दिखेगा. अब भक्तों को खाटूश्यामजी मंदिर में किसी भी प्रकार की अव्यवस्था देखने को नहीं मिलेगी. इसके लिए वित्तमंत्री दीया कुमारी ने राजस्थानवासियों को बजट में तोहफा दिया है. राजस्थान सरकार प्रदेश के विकास के लिए सजग है, इसके लिए प्रदेश सरकार कई प्रयास कर रही है. बुधवार 10 जुलाई को राजस्थान का फुल बजट पेश किया गया. इसमें वित्त मंत्री दीया कुमारी ने राजस्थान के विकास को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की. पेश किए गए बजट में राजस्थान के मंदिरों को लेकर कई घोषणाएं की गई. राजस्थान के विश्वप्रसिद्ध खाटूश्यामजी मंदिर को लेकर वित्त मंत्री ने करोड़ों का बजट दिया है. राजस्थान में मंदिरों का कायाकल्प किया जाएगा. प्रदेश में भजनलाल शर्मा की सरकार ने मंदिरों के कायाकल्प को लेकर बड़ी घोषणा की हैं. वित्त मंत्री दिया कुमारी ने बजट भाषण के दौरान मंदिरों के सौंदर्यीकरण को लेकर बड़ा ऐलान किया है. प्रदेश की वित्त मंत्री दिया कुमारी ने बजट भाषण के दौरान मंदिरों के कायाकल्प करने की बात कही है. प्रदेश के 20 मंदिरों का सौदर्यीकरण किए जाने का एलान किया गया है, जिसमें करोड़ों रुपये की राशि खर्च के लिए आवंटित की जाएगी. दिया कुमारी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा अयोध्या और काशी में कराए गए काम की तर्ज पर प्रदेश के खाटू श्याम मंदिर की भव्यता के लिए 100 करोड़ रुपये की घोषणा कर रही हूं.

खाटूश्यामजी सहित अन्य योजनाएं
राजस्थानवासी सभी उत्सव या त्योहार बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाते है. ऐसे में इस उत्सव को बढ़ाने के लिए राजस्थान सरकार ने इस उत्सव को और बढ़ा दिया है. इसके अलावा दिया कुमारी ने कहा कि होली, दीवाली, शिवरात्रि, रामनवमी आदि त्योहार को आम जनता उत्साह और खुशी के साथ मना सके, इसके लिए लगभग 600 मंदिरों में विशेष साज सज्जा और आरती के कार्यक्रम के लिए 13 करोड़ रुपये व्यय किए जाएंगे. साथ ही प्रदेश में मंदिरों के जीर्णोद्धार और धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न मंदिरों में विकास कार्य करवाए जाएंगे.

इनमें जनजाति आस्था केंद्र सीतावाड़ी बारां, कमलनाथ महादेव और जावर माता मंदिर उदयपुर के साथ आस पास के स्थलों का विकास और पर्यटनों के लिए सुविधा विकसित की जाएगी. साथ ही डूंगरपुर और बांसवाड़ा जनजातिए नायकों के स्मारकों और उदयपुर में वीर बालिका काली बाई संग्रालय के निर्माण के लिए 25 करोड़ रुपये दिए जाएंगे. दिया कुमारी ने कहा कि राजस्थान में ‘माटी कला सेंटर फॉर एक्सीलेंस’ स्थापित किया जाएगा. पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए काम किए जाएंगे. साथ ही राज्य में 20 लाख परिवार पर्यटन से जुड़े हैं. ऐसे में राजस्थान पर्यटन विकास बोर्ड की घोषणा की जाती है. 20 प्रमुख पर्यटन स्थलों को 200 करोड़ से काम कराए जाएंगे. जयपुर में वाल हेरिटेज सिटी बनाया जाएगा.

अब खाटूश्यामजी मंदिर में लगेंगे चार चांद
खाटूश्यामजी मंदिर में देखा जाता है कि आम दिनों में भी मेले जैसा माहौल रहता है.रींगस से लेकर खाटूश्यामजी मंदिर तक लोग अब आम दिनों में पैदल यात्रा कर रहे है. ग्यारस और बारस के दिन मंदिर में आमदिनों से ज्यादा भीड़ देखने को मिलती है. कई बार ही भीड़ के चलते लोगों को अव्यवस्थाओं का शिकार होना पड़ता है. फाल्गुन के मेले में लाखों की संख्या में भक्त बाबा के दर्शन के लिए आते है. फाल्गुन मेले में अत्याधिक भीड़ के कारण अव्यवस्थाएं देखने को मिलती है. ज्यादा भीड़ के कारण खाटू के पैदल मार्ग में भगदड़ हुई है. देश के बड़े-बड़े मंदिरों की तरह अब बाबा श्याम का खाटू मंदिर भी आकर्षक और भव्य दिखेगा. बाबा श्याम को कलयुगी अवतार कहा जाता है. ऐसे में बाबा श्याम के दरबार में ज्यादा भीड़ उमड़ती है. कुछ समय पहले ही बाबा श्याम के मंदिर का कायाकल्प किया गया था. मंदिर देखने में अब किसी महल से कम नहीं लगता. लेकिन बजट में हुई घोषणा के बाद बाबा श्याम के खाटूश्यामजी मंदिर में चार चांद लग जाएंगे

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें