nayaindia America Revange Drone strike : अमेरिका ने लिया काबुल एयरपोर्ट पर हुए हमले...
ताजा पोस्ट | देश | विदेश| नया इंडिया| America Revange Drone strike : अमेरिका ने लिया काबुल एयरपोर्ट पर हुए हमले...

#Dronestrike : अमेरिका ने लिया काबुल एयरपोर्ट पर हुए हमले का बदला, पिछले 2 दशकों का सबसे बड़ा हमला ….

America Revange Drone strike :

नई दिल्ली । America Revange Drone strike : काबुल एयरपोर्ट में हुए बम धमाकों और आतंकी हमले में मारे गए अमेरिकी सैनिकों का बदला आज सरकार ने ले लिया है. बताया जा रहा है कि अमेरिका ने इस्लामिक स्टेट कहने वाले आतंकवादी संगठन के खिलाफ ड्रोन हमला किया है. इस खबर की पुष्टि पेंटागन ने कर दी है. बता दें कि काबुल एयरपोर्ट में हुए बम विस्फोट और हमले की जिम्मेवारी इस्लामिक स्टेट के खुरासान मॉडल ने ली थी. इसी की जवाबी कार्रवाई करते हुए अमेरिका ने यह हमला किया है. न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार सेना ने यह हमला नानगहर प्रांत में किया है. इस संबंध में US सेंट्रल कमांड के प्रवक्ता ने जानकारी दी कि सैन्य बलों ने आतंकवादियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. हालांकि उन्होंने कहा कि अब तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि इस ड्रोन हमले में आतंकवादी संगठन को कितना नुकसान हुआ है.

मानव रहित हमला किसी नागरिक की मौत नहीं

America Revange Drone strike : हमले के बारे में जानकारी देते हुए कैप्टन अर्बन ने कहा कि यह एक मानवरहित हमला था और शुरुआती संकेत मिले हैं कि हमने लक्ष्य को खत्म कर दिया है. उन्होंने कहा कि अभी तक हमें किसी भी नागरिक के मारे जाने की सूचना नहीं मिली है. बताया जा रहा है कि काबुल एयरपोर्ट में हुए धमाकों के बाद दो दशकों का यह सबसे बड़ा हमला था. बता दें कि काबुल एयरपोर्ट में हुए हमले के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने स्पष्ट तौर पर कहा था कि हम आतंकवादियों के आगे घुटने नहीं टेकेंगे और उन्हें चुन चुन कर मारेंगे.

America Revange Drone strike :

इसे भी पढ़ें – Bhavina Patel ने पैरालंपिक में रचा इतिहास, स्वर्ण पदक जीतने से एक कदम दूर, चीन की खिलाड़ी को दी करारी मात

काबुल एयरपोर्ट पर हो सकते हैं और हमले

America Revange Drone strike : अमेरिका की खुफिया एजेंसी ने दावा किया है कि आने वाले कुछ दिनों में काबुल एयरपोर्ट पर और भी आतंकवादी हमले हो सकते हैं. खुफिया एजेंसी का कहना है कि अफगानिस्तान से वापसी का सिलसिला लगातार जारी है ऐसे में अंतिम समय में आतंकवादी संगठन सक्रिय हो गए हैं और आने वाले कुछ दिनों में भी आतंकवादी घटनाएं हो सकती हैं. इस संबंध में व्हाइट हाउस और पेंटागन की ओर से चेतावनी दी गई है कि एअरलिफ्ट करने की प्रक्रिया जल्द से जल्द खत्म हो क्योंकि अब हालात खतरनाक होते जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- तालिबान को मुबारक और…

Leave a comment

Your email address will not be published.

3 + thirteen =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
गहलोत समर्थक तीन नेताओं पर निशाना
गहलोत समर्थक तीन नेताओं पर निशाना