Afghanistan Taliban China Corona : चीन निभाएगा दोस्ती, अफगानिस्तान को....
विदेश| नया इंडिया| Afghanistan Taliban China Corona : चीन निभाएगा दोस्ती, अफगानिस्तान को....

चीन निभाएगा दोस्ती, अफगानिस्तान को 30 लाख कोरोना की वैक्सीन देगा दान

Afghanistan Taliban China Corona :

नई दिल्ली | Afghanistan Taliban China Corona : अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से चीन ने कई मोर्चों से तालिबान की मदद करने की बात कही है. अब एक बार फिर से चीन तालिबान की मदद के लिए आगे आया है. संकट में घिरे अफगानिस्तान को चीन कोविड-19 वैक्सीन की 30 लाख से अधिक डोज दान में देगा. इस संबंध में वरिष्ठ चीनी राजनयिक ने यहां यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि पहली खेप में कोरोना वैक्सीन की 30 लाख डोज की आपूर्ति की जायेगी. बाद में वैक्सीन की और डोज की आपातकालीन आपूर्ति की जाएगी. जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र में चीनी मिशन के प्रमुख चेन शू ने सोमवार को बताया कि चीन ने अफगानिस्तान को भोजन, सर्दियों के लिए आवश्यक सामग्री, कोविड वैक्सीन और 20 करोड़ युआन की दवाएं तत्काल उपलब्ध कराने का फैसला किया है.

Afghanistan Taliban China Corona :

पड़ोसी देश की मदद के लिए मैत्रीपूर्ण नीति

Afghanistan Taliban China Corona : चेन शू ने कहा कि चीन ने अपने करीबी पड़ोसी के रूप में अफगानिस्तान की संप्रभुता, स्वतंत्रता और क्षेत्रीय अखंडता का हमेशा सम्मान किया है. उसके आंतरिक मामलों में कभी हस्तक्षेप नहीं किया तथा सभी अफगानी लोगों के प्रति मैत्रीपूर्ण नीति अपनायी है. श्री चेन ने अफगानिस्तान में मानवीय स्थिति पर उच्च स्तरीय मंत्रिस्तरीय बैठक में कहा कि चीन अफगानी लोगों की इच्छा और जरूरतों का सम्मान करना जारी रखेगा . इसके साथ ही अफगानिस्तान के शांतिपूर्ण पुनर्निर्माण और आर्थिक विकास में उसका समर्थन करने की पूरी कोशिश करेगा.

इसे भी पढें – ‘श्री रामचरितमानस’ पाठ्यक्रमों में हुआ शामिल, देश में यहां इसी शैक्षणिक सत्र से मिलेगी विकल्प

विश्व के सभी देशों को मदद के लिए आना चाहिए आगे

Afghanistan Taliban China Corona : चीनी राजनयिक ने कहा कि मौजूदा परिस्थितियों में अंतरराष्ट्रीय समुदाय को अफगानिस्तान की मदद के लिए कदम बढ़ाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगी देश अफगानी लोगों को आर्थिक, आजीविका और मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए अधिक बाध्य हैं. चेन ने कहा कि अफगानिस्तान में उभर रही हुई स्थिति एक बार फिर दिखाती है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय केवल अफगानिस्तान की संप्रभुता, स्वतंत्रता और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करके शांतिपूर्ण पुनर्निर्माण में एक रचनात्मक भूमिका निभा सकता है.

इसे भी पढें – उत्तर प्रदेश : बढ़ता जा रहा है डेंगू और वायरल का प्रकोप, फिरोजाबाद में अबतक 60 लोगों की मौत

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow