विदेश

इंसान को चांद पर पहुंचाने वाले Michael Collins दुनिया से अलविदा, नासा ने कहा- सच्चा Astronaut खो दिया

नई दिल्ली। Michael Collins Death : चंद्रमा पर इंसान के पहले कदम के दौरान आॅरबिट पायलट की जिम्मेदारी निभाने वाले अंतरिक्ष यात्री माइकल काॅलिन्स (Michael Collins) का बुधवार को 90 साल की आयु में निधन हो गया। काॅलिन्स कैंसर से पीड़ित थे। उन्होंने फ्लोरिडा के नेपल्स में अंतिम सांस ली। माइकल कॉलिंस ने ही अपोलो-11 मिशन (Apollo 11 Mission) को चांद पर सफलतापूर्वक उतारा था। इसके बाद नील आर्मस्ट्रॉंन्ग ने चांद पर पहला कदम रखा था। नील आर्मस्ट्रॉन्ग के बाद बज एल्ड्रिन ने चांद की सतह पर अपने पैर रखे थे।

माइकल कॉलिंस के निधन पर नासा ने भी संवेदना व्यक्त की है। नासा के एक्टिंग एडमिनिस्ट्रेटर स्टीव जुरसिक ने कहा कि अमेरिका और दुनिया ने आज सच्चा एस्ट्रोनॉट खो दिया है।

ये भी पढ़ें : – Corona Effect: अमेरिका ने अपने नागरिकों को जल्द से जल्द भारत छोड़ने की सलाह दी, कोरोना के नये मामलों ने एक बार फिर तोड़ा रिकार्ड

जिस वक्त चांद की सतह पर नील आर्मस्ट्रॉन्ग (Neil Armstrong) और बज एल्ड्रिन अपने कदम बढ़ा रहे थे उस दौरान माइकल कॉलिंस चांद की परिक्रमा लगा रहे थे। कॉलिंस के परिवार की ओर से एक बयान जारी कर कहा गया है कि, माइक ने हमेशा अनुग्रह और विनम्रता के साथ जीवन की चुनौतियों का सामना किया और इसी तरह, अपनी अंतिम चुनौती का भी सामना किया।


यह भी पढ़ें:-Relief: भारत की मदद के लिए मेडिकल इक्विपमेंट भेजेगा दक्षिण कोरिया, अमेरिका ने भी कही मदद की बात

कॉलिंस के निधन पर अमरीकी राष्ट्पति जो बाइडेन ने भी शोक जताया। उन्होंने कहा कि, माइकल कॉलिंस ने हमारे देश की अंतरिक्ष में उपलब्धियों को लिखने और बताने में मदद की है। कॉलिंस ने मांग की है कि सभी उन्हें, केवल माइक कहकर बुलाएं. कलिंस ने 8 दिनों के अपोलो मिशन के कमांड मॉड्यूल का संचालन किया।

यह भी पढ़ें:- Sputnik V 1 मई को पहुंच जाएगी भारत, राहत की उम्मीद

Latest News

वैक्सीनेशन फर्जीवाड़ा, आजमगढ़ में एक दंपति के आधार पर पहले ही किसी ने लगवाई वैक्सीन
आजमगढ़ |  कोरोना को हराने के लिए वैक्सीनेशन अभियान जोर पकड़ रहा है। लेकिन इसमें बहुत फर्जी मामले भी सुनने को मिल…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *