Mullah Hibatullah Akhundzada Afghanistan: आखिर कौन है मुल्ला अखुंदज़ादा ?
ताजा पोस्ट | विदेश| नया इंडिया| Mullah Hibatullah Akhundzada Afghanistan: आखिर कौन है मुल्ला अखुंदज़ादा ?

Afghanistan में शासन चलाने को लेकर तैयारियां शुरू, ‘अखुंदज़ादा’ होंगे शीर्ष नेता, कंधार से चलाया जा सकता हैं शासन!

नई दिल्ली | Afghnistan Crisis: अफगानिस्तान में तालिबान ने अमेरिकी सेनाओं के लौटते ही शासन चलाने को लेकर घोषणा कर दी है। तालिबान ने कहा है कि, मुल्ला हिबतुल्लाह अखुंदज़ादा (Mullah Hibatullah Akhundzada) उनके शीर्ष नेता होंगे। तोलो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, अखुंदजादा प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति होंगे। तालिबान के सांस्कृतिक आयोग के सदस्य अनामुल्ला समांगानी ने कहा कि अखुंदजादा नई सरकार के शीर्ष नेता (Mullah Hibatullah Akhundzada Afghanistan) होंगे। बता दें कि अमेरिकी सेना के सभी जवान 31 अगस्त से पूर्व ही अफगानिस्तान को छोड़ कर अपने वतन लौट गए थे।

ये भी पढ़ें :- बेलगाम कोरोना! Kerala में 24 घंटे में 33 हजार के करीब पहुंचे पॉजिटिव, केन्द्र ने पड़ोसी राज्यों को चेताया

आखिर कौन है मुल्ला हिबतुल्लाह अखुंदज़ादा ?
Mullah Hibatullah Akhundzada Afghanistan: अफगानिस्तान में तालिबानी हुकूमत के बाद अब वहां शासन चलाने को लेकर सरकार बनाने की तैयारियां चल रही हैं। ऐसे में अफगानिस्तान में मुल्ला हिबतुल्लाह अखुंदज़ादा (Mullah Hibatullah Akhundzada) को प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति बनाए जाने की चर्चा है, लेकिन आखिरकार ये अखुंदजादा है कौन? इसको लेकर अभी लोगों को बहुत ही कम जानकारी है। क्योंकि अखुंदजादा कभी सामने नहीं आया और उनके ठिकानों के बारे में भी किसी को कोई खास जानकारी नहीं है। लेकिन इनको अफगानिस्तान का शासक बनाए की खबरे लगातार आ रही है। खबरों की माने तो अफगानिस्तान की नई सरकार में अखुंदजादा कंधार (Kandahar) से काम करेंगे।

ये भी पढ़ें :- Jammu-Kashmir: अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी का निधन, Pakistan ने रखा एक दिन का राजकीय शोक

Taliban

अफगानिस्तान में तालिबानी, ईरान मॉडल के आधार पर सरकार बना रहे हैं। इसमें एक इस्लामी गणराज्य होगा जहां सर्वोच्च नेता राज्य का प्रमुख होता है जो राष्ट्रपति से भी ऊपर होगा। वह सर्वोच्च धार्मिक और राजनीतिक व्यक्ति होगा। माना जा रहा है कि वो नेता अखुंदजादा ही होंगे। खबरें है कि, तालिबान के एक सदस्य अब्दुल हक्कानी ने कहा कि, इस्लामिक अमीरात हर सूबे में सक्रिय है। हर सूबे में एक गवर्नर है, जिसने काम करना शुरू कर दिया है। हर जिले के लिए एक जिला गवर्नर और हर सूबे में एक पुलिस प्रमुख है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow