Loading... Please wait...

सरकार ने बांग्लादेश-म्यामां सीमाओं पर चौकसी बढ़ाने को कहा

नई दिल्ली। सरकार ने बांग्लादेश और म्यामां के साथ लगी भारत की सीमाओं पर तैनात सुरक्षा बलों को अलर्ट करते हुए रोहिंग्या मुस्लिमों के देश में घुसने के प्रयासों को विफल करने के लिए अतिरिक्त चौकसी बरतने के लिए कहा है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

गृह मंत्रालय ने एक पत्र में 4,096 किलोमीटर लम्बी भारत-बांग्लादेश सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और 1,643 किलोमीटर लम्बी भारत-म्यामां सीमा की सुरक्षा में तैनात असम राइफल्स से चौकसी बढ़ाने के लिए कहा है। गृह मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि दोनों सीमाओं की सुरक्षा में तैनात सुरक्षा बलों को अतिरिक्त सतर्कता बरतने के लिए कहा है ताकि कोई भी अवैध प्रवासी भारत में न घुस सके। सरकार ने उच्चतम न्यायालय को बताया है कि रोहिंग्या अवैध प्रवासी है और इनमे से कुछ पाकिस्तान की गुप्तचर एजेंसी आईएसआई और आईएसआईएस जैसे आतंकवादी संगठनों के भयावह मंसूबे का हिस्सा है और देश में इनकी मौजूदगी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए एक गंभीर खतरा है।

सरकार ने नौ अगस्त को संसद को बताया था कि यूएनएचसीआर के साथ पंजीकृत 14 हजार से अधिक रोहिंग्या भारत में रह रहे है। हालांकि सहायता एजेंसियों का अनुमान है कि देश में लगभग 40 हजार रोहिंग्या मुस्लिम है। पश्‍चिमी म्यामां में रोहिंग्या अल्पसंख्यक मुस्लिम है और इनके गांवों पर सुरक्षा बलों के अभियान के बाद ये अपने घरों को छोड़कर भागे थे।

109 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2016 nayaindia digital pvt.ltd.
Maintained by Netleon Technologies Pvt Ltd