20 हजार रेल डिब्बे बनेंगे क्वारेंटीन/आइसोलेशन वार्ड

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ महामारी से निपटने की तैयारियों के तहत ट्रेनों के 20 हजार से अधिक कोचों को क्वारेंटीन एवं आइसोलेशन वार्डों में बदलने का फैसला किया है जिससे लगभग सवा तीन लाख बिस्तर की क्षमता सृजित होगी।

रेलवे बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार पहले चरण में पांच हजार कोचों में बदलाव का काम शुरू भी हो गया है। इनमें 80 हजार बिस्तर उपलब्ध होंगे।

रेलवे के पांच ज़ोन पहले ही क्वारेंटीन /आइसोलेशन कोचों के लिए प्रोटोटाइप्‍स तैयार कर चुके हैं। एक कोच में आइसोलेशन के लिए 16 बिस्‍तर लगाए जाने की संभावना है। अधिकारियों के अनुसार इस संबंध में सशस्‍त्र बल चिकित्‍सा सेवाओं, रेलवे के विभिन्‍न ज़ोनों के चिकित्‍सा विभागों और केंद्र सरकार के अधीन आयुष्‍मान भारत, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के साथ परामर्श में प्रोटोटाइप को मंजूरी मिलने के पश्चात यह निर्णय लिया गया।

अधिकारियों के अनुसार केवल गैर वातानुकूलित आईसीएफ स्‍लीपर कोचों को ही क्वारेंटीन /आइसोलेशन कोचों में परिवर्तित किए जाने की योजना है। भारतीय शैली के एक शौचालय को बाथरूम में परिवर्तित किया जाएगा। इसमें बाल्‍टी, मग और सोप डिस्‍पेंसर रखा जाएगा। इसके वाशबेसिन में लिफ्ट टाइप हैंडल वाले नल उपलब्‍ध कराए जाएंगे। इसी तरह के नल उचित ऊंचाई पर लगाए जाएंगे, ताकि इनसे बाल्‍टी में पानी भरा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares