nayaindia polling second phase in Gujarat गुजरात में दूसरे चरण में 59 फीसदी मतदान
kishori-yojna
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| polling second phase in Gujarat गुजरात में दूसरे चरण में 59 फीसदी मतदान

गुजरात में दूसरे चरण में 59 फीसदी मतदान

vote.

अहमदाबाद। गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 93 सीटों के लिए मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ। शाम पांच बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक करीब 59 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। शाम पांच बजे के बाद भी ज्यादातर मतदान केंद्रों पर बड़ी संख्या में लोग कतार में लगे थे, जिससे अंतिम आंकड़ा बढ़ने का अनुमान है। पहले चरण की 89 सीटों पर 63 फीसदी के करीब मतदान हुआ था।

दूसरे चरण में भी पिछले चुनाव के मुकाबले मतदान का प्रतिशत गिरा है। शाम पांच बजे तक के आंकडों के मुताबिक 59.11 फीसदी मतदान हुआ है। अंतिम आंकड़ों में अगर इसमें पांच फीसदी की बढ़ोतरी होती है तब भी यह 64 फीसदी से ऊपर नहीं जा पाएगा, जबकि 2017 के विधानसभा चुनाव में इन सीटों पर 69.2 फीसदी मतदान हुआ था। इसका मतलब है कि दूसरे चरण में पिछली बार से करीब पांच फीसदी कम वोट पड़ेंगे। पहले चरण में भी 2017 के मुकाबले चार फीसदी कम मतदान हुआ।

बहरहाल, दूसरे चरण की 93 सीटों के लिए सुबह आठ बजे मतदान शुरू हुआ और पांच बजे समाप्त हुआ। सबसे ज्यादा 65.84 फीसदी मतदान साबरकांठा में और सबसे कम 53.16 फीसदी मतदान अहमदाबाद में दर्ज किया गया। दूसरे चरण में 833 उम्मीदवार मैदान में हैं। पहले  चरण की तरह दूसरे चरण में भी शहरों की तुलना में गांवों में वोटिंग का प्रतिशत ज्यादा रहा है।

सोमवार को दूसरे चरण के मतदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वोट डाला। प्रधानमत्री मोदी की मां हीराबा भी मतदान के लिए व्हीलचेयर से पोलिंग बूथ पर पहुंचीं। उनकी उम्र सौ साल है। हालांकि 80 साल से ज्यादा उम्र के नागरिकों को घर से ही मतदान करने की सुविधा दी गई थी। इसके बावजूद हीराबा खुद बूथ तक पहुंचीं और मतदान किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अहमदाबाद के राणिप इलाके में मतदान किया। पीएम जब मतदान करने राणिप पहुंचे तो ढोल नगाड़ों से उनका स्वागत किया गया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 3 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी को लेकर जयवर्धने की भविष्यवाणी
बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी को लेकर जयवर्धने की भविष्यवाणी