झारखंड के दूसरे चरण में 64.84 फीसद मतदान

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में शनिवार को 20 सीटों के लिए 64.84 प्रतिशत मतदान हुआ। मतदान के दौरान सिसई में सुरक्षा बलों और ग्रामीणों के बीच झड़प हो गई।

इसके बाद सुरक्षा बलों की कार्रवाई में एक ग्रामीण की मौत और दो अन्य घायल हो गए।  इसी दौरान एक अन्य घटना में शनिवार शाम लगभग चार बजे मतदान करवा कर लौट रहे दल पर नक्सलियों ने अटकी के गितिल बेड़ा में घात लगाकर गोलीबारी की और ईवीएम लूटने की कोशिश की लेकिन सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई से नक्सली जंगलों में भागने को मजबूर हो गए।

इस घटना में अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। झारखंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनय कुमार चौबे ने बताया कि झारखंड विधानसभा चुनावों के दूसरे चरण में शनिवार शाम पांच बजे मतदान संपन्न होने तक कुल 64.84 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है। सिसई, खूंटी के अटकी और चाईबासा को छोड़कर अन्य सभी विधानसभा क्षेत्रों में मतदान पूरी तरह शांतिपूर्ण ढंग से होने की खबर है।

अपर पुलिस महानिदेशक एवं झारखंड चुनावों में सुरक्षा मामलों के नोडल अधिकारी मुरारीलाल मीणा ने बताया कि सिसई में सुबह ग्रामीणों और सुरक्षाकर्मियों में किसी बात को लेकर झड़प हो गयी जिसका लाभ उठाकर कुछ असामाजिक तत्वों ने बूथ नंबर 36 पर आरपीएफ के जवानों से हथियार छीनने की कोशिश की।

इसके बाद आरपीएफ की गोलीबारी में एक ग्रामीण की मौत हो गयी और दो अन्य व्यक्ति घायल हो गये जिनका इलाज अस्पताल में किया गया। घायल दोनों व्यक्ति की हालत खतरे से बाहर बतायी गयी है। चौबे ने बताया कि खूंटी के तमाड़ विधानसभा क्षेत्र के मारंगबुरू में मतदान केंद्र संख्या 132 पर मतदान कराकर वापस लौट रहे मतदान दल पर घात लगाए बैठे नक्सलियों ने अटकी के गितिल बेड़ा में हमला कर दिया लेकिन सुरक्षा कर्मियों ने जब नक्सलियों पर जवाबी गोलीबारी की तो नक्सली जंगल में भाग निकले। इस घटना में मतदान दल का कोई सदस्य हताहत नहीं हुआ और ईवीएम को किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ।

उन्होंने बताया कि सिसई के मतदान केंद्र संख्या 36 पर इस घटना के चलते मतदान बाधित हो गया और यहां पुनर्मतदान कराये जाने की संभावना है। एक अन्य घटना में नक्सलियों ने चाईबासा में मतदान केंद्र संख्या 84 पर मतदान कर्मियों की खाली खड़ी एक बस को आग लगा दी लेकिन इसका चुनाव पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा। उन्होंने बताया कि मतदान समाप्ति के शनिवार समय शाम पांच बजे तक सबसे अधिक 75.36 प्रतिशत मतदान नक्सल प्रभावित बहरागोड़ा विधानसभा क्षेत्र में रिकार्ड किया गया। बहरागोड़ा में 75.36 प्रतिशत, घाटशिला में 70.37, पोटका में 67.87, जुगसलाई में 65.78, जमशेदपुर पूर्वी में 56.30, जमशेदपुर पश्चिमी में 54.41, सराइकेला में 63.93, चाईबासा में 65.09, मझगांवा में 66.84, जगन्नाथपुर में 62.57, मनोहरपुर में 60.03, चक्रधरपुर में 65.61, खरसांवां में 66.37, तमाड़ में 68.11, तोरपा में 64.24, खूंटी में 63.66, मांडर में 67.52, सिसई में 68.60, सिमडेगा में 64.74, कोलेबीरा में 65.48 प्रतिशत मतदान हुआ।। पूर्वी सिंहभूम जिले में घाटशिला उपमंडल में मतदान केन्द्र संख्या 234 पर चुनाव ड्यूटी पर तैनात एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक हरिश्चंद्र गिरी की हृदय गति रुकने से असामयिक मृत्यु हो गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares