कांग्रेस के दबाव में रिम्स निदेशक का इस्तीफा स्वीकार कियाः भाजपा

रांची। भाजपा ने राज्य के सबसे बड़े चिकित्सा संस्थान एवं अस्पताल राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक डा. डीके सिंह का इस्तीफा कोरोना संक्रमण महामारी के बीच स्वीकार किये जाने के सरकार के फैसले की तीखी आलोचना करते हुए बुधवार को आरोप लगाया कि वह कांग्रेस के दबाव में ऐसा कर रही है।

भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप वर्मा ने आरोप लगाया कि हेमंत सोरेन सरकार अपने सहयोगी दल कांग्रेस के दबाव में बुरी तरह घिर चुकी है, इसीलिये इस महामारी के दौर में उन्होंने रिम्स के निदेशक का इस्तीफा आज स्वीकार कर लिया। रिम्स के निदेशक डा. डीके सिंह का पहले ही पंजाब में पटियाला स्थित एम्स में निदेशक के पद पर चयन हो चुका है।

वर्मा ने आरोप लगाया कि निदेशक ने स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता की मनमानी पर रोक लगा रखी थी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री की छटपटाहट उसी वक्त जाहिर हो गई थी जब लगभग एक माह पूर्व उन्होंने बिना मुख्यमंत्री के आदेश के ही निदेशक का इस्तीफा स्वीकार कर दूसरे निदेशक की नियुक्ति भी कर दी थी।

उन्होंने कहा कि सरकार के मंत्री नियम विरुद्ध दबाव बनाकर झारखंड को फिर से भ्रष्टाचार में झोंकना चाहते हैं। मंत्री और विभागीय सचिव के विरोधाभासी बयान से इस तरह की स्थिति स्पष्ट है। वर्मा ने सवाल किया, मुख्यमंत्री की नजरों में कल तक निदेशक अच्छे थे तो आज वह दोषी कैसे हो गए? ज्ञातव्य है कि मुख्यमंत्री ने आज रिम्स के निदेशक का इस्तीफा स्वीकार कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares