भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी: विप्लव

अगरतला। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री विप्लव कुमार देव ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार में हुए भ्रष्टाचार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई जारी रहेगी।

देव ने शनिवार को विशालगढ़ में एक धार्मिक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के केंद्रीय समिति के सदस्य एवं पूर्व पीडब्ल्यूडी मंत्री बादल चौधरी के खिलाफ 164 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार मामले में कानूनी कार्रवाई जारी रहेगी।

उन्होंने कहा कि 25 वर्षों के वामपंथी शासन में परियोजनाओं, खरीद, अनुबंधों और बुनियादी ढांचे के विकास के क्रियान्वयन में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है, लेकिन मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने अपनी भूमिका संतोषजनक तरीके से नहीं निभायी जिसको लेकर आम आदमी के मन में संदेह है कि क्या विपक्षी नेता भी इसमें शमिल थे।

उन्होंने कहा कि भाजपा राज्य में स्वच्छ, भ्रष्टाचार मुक्त और पारदर्शी सरकार देने के लिये प्रतिबद्ध है। राज्य के लोगों ने उन्हें आपराधिक, अनैतिक और वामपंथी सरकारों के क्रियाकलापों के प्रति न्याय दिलाने के लिए वोट दिया। उन्होंने कहा कि अगर किसी को लगता है कि कानून के उल्लंघन के मामले में किसी पूर्व मंत्री के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराना राजनीतिक हित साधने के लिए किया गया है, तो वह अाखिरी दम तक ऐसा करते रहेंगे।

इसे भी पढ़ें:- अब कांग्रेस ने मोदी को दी चुनौती

मुख्यमंत्री के बयान को विपक्ष के लिए चेतावनी माना जा रहा है। शुक्रवार को माकपा के शीर्ष नेता प्रकाश करात और माणिक सरकार ने कहा था कि पिछले 19 महीनों में सरकार अपने चुनावी वादों को पूरा करने में विफल रही है। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से त्रिपुरा में भाजपा-आईपीएफटी सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने का आह्वान किया था।

इसे भी पढ़ें:- धनतेरस पर बर्तन नहीं, तलवार खरीदें: भाजपा नेता

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार 164 करोड़ रुपये के पीडब्लूडी घोटाले के अलावा, सरकार की तीन और बड़े घोटालों पर नजर है इसमें आरोपी मंत्री बादल चौधरी तथा कुछ और अधिकारी शामिल है। कृषि विभाग में जेएनएनयूआरएम योजना, कई तरह के बीज और उर्वरक घोटाले, त्रिपुरा शहरी परिवहन कंपनी में 27 करोड़ रुपये के घोटाले के अलावा, ग्रामीण विकास, वन और स्वास्थ्य विभागों में घोटाले का खुलासा हुआ है।

इसे भी पढ़ें:- जारी रहेगा मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान : कमलनाथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares