Afghanistan Crisis: काबुल के नजदीक पहुचें तालिबानी लड़ाके
ताजा पोस्ट | विदेश| नया इंडिया| Afghanistan Crisis: काबुल के नजदीक पहुचें तालिबानी लड़ाके

Afghanistan सरकार पर मंडरा रहा Talibani खतरा, काबुल के नजदीक पहुंचे लड़ाके, मार गिराया ईरानी मिलिट्री ड्रोन

नई दिल्ली | Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान में अब ऐसा लगने लगा है कि तालिबान पूरी तरह हावी हो गया है। तालिबान ने शुक्रवार को अफगानिस्तान के 4 और प्रांतों की राजधानियों पर कब्जा जमाते हुए समूचे दक्षिणी भाग पर अपना नियंत्रण कर लिया है। सूत्रों की माने तो तालिबानी लड़ाके अब देश की राजधानी काबुल से सिर्फ 50 किलोमीटर के दूरी पर है और धीरे-धीरे काबुल की ओर बढ़ रहे हैं। तालिबान ने अफगान के सभी बड़े शहरों पर कब्जा कर लिया है। तालिबान अब अफगानिस्तान के सैन्य हवाई अड्डों पर भी अपना कब्जा जमा रहा है। तालिबान ने अब ईरान के एक मिलिट्री ड्रोन को मार गिराने का दावा किया है।

ये भी पढ़ें :- सुरक्षाबलों को 15 August से पहले बड़ी सफलता, कुलगाम में पाकिस्तानी आतंकी उस्मान ढेर, हमले की रच रहा था साजिश

तालिबान के एक प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने दावा किया है कि हमारे लड़ाकों ने ईरान के सीमावर्ती इलाके में एक ईरानी ड्रोन को मार गिराया है। इस ईरानी ड्रोन की सोशल मीडिया कुछ तस्वीरें भी वायरल हो रही जिनमें तालिबानी लड़ाके एक मिलिट्री ड्रोन के मलबे के पास खड़े हैं।

कहा जा रहा है कि जब से तालिबानियों ने अफगान में आतंक मचा रखा है तब से ईरान ने भी खुद की सीमाओं पर चौकसी बढ़ा दी है। ऐसे में हो सकता है कि ये ड्रोन ईरानी सीमा पर चौकसी के लिए मंडरा रहा हो।

ये भी पढ़ें :- Maharashtra: CM उद्धव ठाकरे के सेक्रेटरी को धमकी, मांगे माने नहीं तो भुगते परिणाम

Taliban Terror in Afghanistan

यहीं नहीं, इससे पहले तालिबानी आतंकियों ने कुंदुज हवाई अड्डे पर भी कब्जा करते हुए भारत की ओर से अफगानिस्तान सरकार को उपहार स्वरूप दिए गए एमआई-24वी हैलिकॉप्टर को भी अपने कब्जे में कर लिया था।

ये भी पढ़ें :- 15 August पर आतंकी अलर्ट के बाद Delhi में बढ़ाई गई सुरक्षा, छावनी बना ऐतिहासिक लाल किला

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
पुलिस कार्रवाई से बौखलाये नक्सलियों ने बंद बुलाया
पुलिस कार्रवाई से बौखलाये नक्सलियों ने बंद बुलाया