Corona Update: अगर नहीं लगा लॉकडाउन तो कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयार रहें- एम्स निदेशक

Must Read

New Delhi: देश में कोरोना की दूसरी लहर से सब कुछ तबाह होने की कगार पर पहुंच गया है. एक दिन में कोरोना के 4 लाख के करीब मामले सामने आ रहे हैं. इन हालातों में देशभर में एक बार फिर से लॉकडाउन लगाने की मांग उठ रही है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक लॉकडाउन लगाने पर केंद्र सरकार को सलाह दे चुका है. ऐसे में एम्स के डायरेक्टर डाॅ रणदीप गुलेरिया ने चेताया है कि अगर देश में कठोरता के साथ लाॅकडाउन नहीं लगाया गया तो हम सबको कोरोना की तीसरी लहर का सामना करना पड़ सकता है. उन्होंने कहा कि जैसा कि अबतक दिख रहा है और अगर आगे भी ऐसा हुआ कि वायरस मजबूत होता गया तो वह हमारे इम्यून सिस्टम को ध्वस्त कर सकता है तब स्थिति काबू से बाहर हो जायेगी. डाॅ रणदीप गुलेरिया ने नाइट कर्फ्यू और वीकेंड लाॅकडाउन को कोरोना की चेन तोड़ने में अपर्याप्त बताया है. वे संपूर्ण लाॅकडाउन की बात कर रहे हैं, ताकि कोरोना की चेन को तोड़ा जा सके.

कोरोना की चेन तोड़ना जरूरी

डाॅ रणदीप गुलेरिया ने बातचीत में कहा कि कोरोना के फैलाव को रोकने के लिए इसका चेन तोड़ना जरूरी है और यह तभी संभव है जब पूरे देश में पर्याप्त समय के लिए लाॅकडाउन लगाया जाये. डाॅ गुलेरिया ने कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए तीन उपाय सुझायें हैं जिनमें से पहला है-अस्पतालों में इंफ्रास्ट्रक्चर को ठीक करना. दूसरा है लाॅकडाउन लगाना और तीसरा है वैक्सीनेशन. डाॅ गुलेरिया ने जोर देकर कहा कि अगर हम इंसानों के बीच नजदीकी संपर्क बनाना छोड़ दें तो संभव है कि वायरस की चेन को तोड़ा जा सके.

इसे भी पढें- Corona Vaccine: अमेरिका में 4 जुलाई तक 70 प्रतिशत अमेरिकी वयस्कों को लग जाएगा टीका

2 सप्ताह के लिए लगाना होगा लॉकडाउन

डाॅ गुलेरिया ने कहा कि देश में कम से कम दो सप्ताह का लाॅकडाउन लगाना जरूरी है. उन्होंने कहा कि अगर अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन दे दिया जाये तो ऐसा संभव है कि अगर तीसरी लहर आये भी तो वह उतनी खतरनाक ना हो जितनी की अभी की लहर खतरनाक है. गौरतलब है कि देश में प्रति दिन चार लाख के करीब संक्रमण के मामले रोज आ रहे हैं साथ ही मृतकों की संख्या भी तीन हजार पांच सौ से अधिक है, जिसे देखते हुए पूरे देश में दहशत का माहौल है.

इसे भी पढें- UP में कोरोना कर्फ्यू की अवधि दो और दिनों के लिए बढ़ी, सोमवार सुबह सात बजे तक लागू रहेगा

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

शुगर की दवा मेटफॉर्मिन करेगी कोरोना संक्रमितों की सहायता- शोध

delhi: कोरोना वायरस ने पिछले डेढ़ साल से आतंक मचा रखा है। एक शोध में कोरोना सबसे पहले फेफडों...

More Articles Like This