nayaindia केन्द्र और पश्चिम बंगाल सरकार का घमासान! अलपन बंदोपाध्याय ने दिया केंद्र के ‘कारण बताओं नोटिस’ का जवाब - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया|

केन्द्र और पश्चिम बंगाल सरकार का घमासान! अलपन बंदोपाध्याय ने दिया केंद्र के ‘कारण बताओं नोटिस’ का जवाब

Alapan Bandyopadhyay

कोलकाता । केन्द्र और पश्चिम बंगाल सरकार (West Bengal Govt) में छिड़ा घमासान अभी जारी है. केंद्र सरकार द्वारा पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्याय (Alapan Bandopadhyay) से मांगे गए ‘कारण बताओं’ नोटिस (Show Cause Notice) का आज गुरूवार को अलपन बंदोपाध्याय ने जवाब दे दिया है. सूत्रों के मुताबिक, अलपन बंदोपाध्याय ने अपने जवाब में कहा है कि उन्होंने वहीं किया जो मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि वह उस समय मुख्यमंत्री के साथ थे और उत्तर और दक्षिण 24 परगना में हवाई सर्वेक्षण कर रहे थे. वह प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अनुमति पर दीघा गए थे.

ये भी पढ़ें:- Vaccine लगवाओं और मुफ्त में बिरयानी के साथ ढेरों Gifts पाओं…. यहां टीका लगवाने पर मिल रहे रेफ्रिजरेटर, वॉशिंग मशीन और स्कूटर

बता दें कि केंद्र सरकार ने बंदोपाध्याय को 31 मई को ‘कारण बताओ’ नोटिस जारी किया था. चक्रवाती तूफान ‘यास’ के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) की 28 मई को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के साथ समीक्षा बैठक के दौरान शुरू हुए विवाद के बाद बंदोपाध्याय को केंद्र सरकार ने दिल्ली में रिपोर्ट करने को कहा था, लेकिन वे वहां नहीं पहुंचे थे. जिसके बाद उन्हें ये नोटिस जारी किया गया.

ये भी पढ़ें:- सपा के एक और MP ने दिया अजीब बयान, कहा- लड़कियों का पकड़ कर रेप कराया, अल्लाह के सामने गिड़गिड़ाने से खत्म होगा कोरोना

आपको बता दें कि 1987 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी अलपन बंदोपाध्याय 31 मई को सेवानिवृत्त होने वाले थे, लेकिन ममता बनर्जी ने उनके कार्यकाल को तीन महीने के लिए बढ़ाने की अनुमति मांगी थी जो उन्हें मिल गई थी. अलपन बंदोपाध्याय पश्चिम बंगाल में जारी कोविड-19 के प्रबंधन कार्यो का नेतृत्व कर रहे थे.

ये भी पढ़ें:- Uttar pradesh Election Countdown : BJP के बाद अब एक्शन मोड में आई BSP, दो बड़े नेताओं को दिखाया बाहर का रास्ता

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × two =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
खड़गे के बयान पर बढ़ा विवाद
खड़गे के बयान पर बढ़ा विवाद