nayaindia तमिलनाडु में किसान ने बनवाया मोदी का मंदिर - Naya India
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

तमिलनाडु में किसान ने बनवाया मोदी का मंदिर

तिरुचिरापल्ली। तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले के ईराकुडी गांव में एक किसान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को समर्पित एक मंदिर का निर्माण कराया है। किसान पी शंकर ने गरीबों और वंचितों के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को शुरू करने के लिए श्री मोदी का आभार व्यक्त करते हुए अपनी जमीन पर इस मंदिर का निर्माण कराया है।

मंदिर में प्रधानमंत्री की आवक्ष प्रतिमा स्थापित की गई है जिसमें उनके माथे पर ‘तिलक’ और आखों में चश्मा लगा हुआ है। प्रतिमा को नीले रंग के शॉल से लपेटा गया है। मंदिर में प्रतिदिन भारी भीड़ जुटती है और इसका उद्घाटन एक सप्ताह पहले ही किया गया है।

इसे भी पढ़ें :- सोरेन के शपथ-ग्रहण समारोह में लालू नहीं होंगे शामिल

मंदिर का निर्माण 1.20 लाख रुपये की लागत से कराया गया है और इसमें करीब आठ महीनें का समय लगा है। किसान हर रोज मंदिर में श्री मोदी की प्रतिमा की पूजा और आरती करता है। मंदिर का निर्माण कराने वाला यह किसान हालांकि अन्नाद्रमुक नेता एमजीआर और जयललिता का एक बड़ा समर्थक है लेकिन वह श्री मोदी के कार्यों से बहुत प्रभावित है। उसने इस वर्ष संसदीय चुनावों से पहले डिंडीगुल जिला जाकर भगवान धनदायुथापानी स्वामी से श्री मोदी को दूसरी बार सत्ता में आने के लिए प्रार्थना की थी।

किसान ने कहा, “मेरी प्रार्थना पूरी हो गई है इसलिए मैं मंदिर जाकर मुंडन कराऊंगा।” वह प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना जैसी केंद्रीय योजनाओं का लाभार्थी है। स्कूल की पढ़ाई बीच में ही छोड़ने वाले शंकर का लक्ष्य 12वीं कक्षा में पढ़ रहे अपने छोटे बेटे को डॉक्टर बनाना है।

किसान की बड़ी बेटी इंजीनियरिंग ग्रेजुएट हैं और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही हैं और दूसरा बेटा अन्ना विश्वविद्यालय से बीई कर रहा है। शंकर अगले दो से तीन महीने में इस मंदिर का प्रतिष्ठापन कराने की योजना बना रहा है। इस अवसर पर वह भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं निमंत्रित करने की योजना भी बना रहा है। उसने कहा, “ अगर प्रधानमंत्री इस गांव का दौरा करेंगे और इस मंदिर में आएंगे तो मुझे बहुत खुशी होगी।”

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × five =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
संदेश मिला और सवाल उठेः अब जवाब चाहिए
संदेश मिला और सवाल उठेः अब जवाब चाहिए