Amit shah opposition parties मोदी विरोधियों को शाह ने दिया जवाब
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Amit shah opposition parties मोदी विरोधियों को शाह ने दिया जवाब

मोदी विरोधियों को शाह ने दिया जवाब

Amit shah opposition parties

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक पत्रिका को इंटरव्यू देने के बाद अब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने संसद टीवी को इंटरव्यू दिया है। मोदी ने अपने इंटरव्यू में विपक्षी पार्टियों और पिछली सरकारों पर निशाना साधा था। उसी तरह अमित शाह ने भी विपक्ष को निशाना बनाया है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध करने वालों को भी जवाब दिया है। शाह ने प्रधानमंत्री मोदी पर तानाशाह की तरह बरताव करने के विपक्ष के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी सबकी बात सुनते हैं और अच्छी सलाह देने वाले लोगों की बातों को प्राथमिकता देते हैं। Amit shah opposition parties

Read also कोरोना से जंग में जीत की ओर भारत, लगाई गई 95 करोड़ वैक्सीन डोज, तय समय से पहले ही पार होगा 100 करोड़ का आंकड़ा

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी भी बड़े मुद्दे पर फैसला करने से पहले दो से तीन बार बैठक करते हैं। वे विरोधी की बात भी धैर्य के साथ सुनते हैं। रविवार को गृह मंत्री अमित शाह ने संसद टीवी को इंटरव्यू देते हुए कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री के काम करने के अंदाज को काफी करीब से देखा है। किसी मसले पर जब कोई बैठक होती है तो वे कम बोलते हैं। उन्होंने मोदी जैसा अच्छा श्रोता नहीं देखा। उन्होंने कहा कि पीएम पर निरंकुश होने का जो आरोप विपक्ष लगाता है, वह निराधार है।

Read also Akhilesh Yadav ने योगी सरकार पर चलाए तीखें बाण, सहारनपुर रैली में BJP को बताया सिर्फ नाम बदलने वाली सरकार

अमित शाह ने कहा कि मोदी अच्छी सलाह देने वाले लोगों की बातों को प्राथमिकता देते हैं। इससे फर्क नहीं पड़ता कि सलाह देने वाला व्यक्ति कौन है। उनकी आलोचना करने वाले भी इस बात को मानते हैं कि इससे पहले किसी कैबिनेट ने इतने स्वतंत्र रूप से कभी काम नहीं किया। अमित शाह ने कृषि सुधार कानूनों के मुद्दे पर भी प्रधानमंत्री मोदी का बचाव किया। उन्होंने कहा कि इस कानून के बारे में चिंता करने जैसी कोई बात नहीं है। गृहमंत्री ने कानून को किसानों के लिए उठाया गया जरूरी कदम करार दिया।

Read also भारत-चीन के सैन्य कमांडरों ने की वार्ता

शाह ने कहा कि 11 करोड़ किसानों को हर साल छह हजार रुपए दिए जा रहे हैं। इसका मतलब है किसानों को हर साल डेढ़ लाख करोड़ रुपए मिल रहे हैं। कुछ समय पहले यूपीए सरकार ने 60 हजार करोड़ का लोन माफ किया था। यह पैसे बैंकों को तो मिल गया था, लेकिन किसानों के हाथों में कुछ नहीं आया था, लेकिन एनडीए सरकार द्वारा दिए गए डेढ़ लाख लाख करोड़ सीधे किसानों तक पहुंचे हैं। मोदी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा  कि प्रशासन की बारीकियों को वे अच्छी तरह से समझते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
बच्चों को कोरोना कवच की तैयारी! मार्च से शुरू हो सकता है 12 के बच्चों का वैक्सीनेशन
बच्चों को कोरोना कवच की तैयारी! मार्च से शुरू हो सकता है 12 के बच्चों का वैक्सीनेशन