nayaindia Gujarat Polls 2022: केजरीवाल बोले- इस बार भेद डाला किला, अब अगली ...
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| Gujarat Polls 2022: केजरीवाल बोले- इस बार भेद डाला किला, अब अगली ...

Gujarat Polls 2022: केजरीवाल बोले- इस बार भेद डाला किला, अब अगली बार जीत ले जाएंगे

नई दिल्ली | Gujarat Polls 2022: दिल्ली नगर निगम चुनाव 2022 (एमसीडी) में भाजपा को हराने वाली अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने गुजरात चुनाव 2022 में पहली बार चुनाव लड़ने हुए वहां भी खुद के लिए सीटें निकाल ली है। जिसके बाद पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल काफी उत्साहित हैं।

किला भेदने में सफल, अब अगली बार जीतेंगे किला
गुजरात चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि, गुजरात को भाजपा का गढ़ माना जाता है, लेकिन हम इस बार हम किला भेदने में सफल हो गए हैं और अगली बार किला भी जीतेंगे। गुजरात में आम आदमी पार्टी को क़रीब 13 प्रतिशत वोट मिले हैं, अब तक करीब 39 लाख वोट मिल चुके हैं और अभी तो काउंटिंग जारी है। इसका मतलब तो सही है कि, ’आप’ लोगों ने भरोसा जताया है। इसके लिए हम भी लोगों आभारी हैं।

ये भी पढ़ें:- पहाड़ों में भाजपा नहीं तोड़ पाई पुराना रिवाज, हिमाचल सीएम जयराम ने स्वीकारी हार

’आप’ को मिला राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा
Gujarat Polls 2022: गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा के गढ़ में सेंध मारने के बाद उत्साहित अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं के लिए वीडियो संदेश जारी किया है। जिसमें केजरीवाल ने कहा कि, आम आदमी पार्टी को अब राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा मिल गया है। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं और सभी देशवासियों को बहुत-बहुत बधाई। आपकी ’आम आदमी पार्टी’ अब राष्ट्रीय पार्टी बन गई है। देश में चंद पार्टियां ही हैं, जिनकों राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा मिला हुआ है, उनमें आम आदमी पार्टी भी शामिल हो गई है।

ये भी पढ़ें:- लालू जी को किडनी डोनेट करने वाली बेटी रोहिणी ने दी हेल्थ अपडेट, लिखा- पापा ठीक हैं…

सिर्फ 10 साल में ही दो राज्यों में ’आप’ की सरकार
Gujarat Polls 2022: अरविंद केजरीवाल यहीं चुप नहीं रहे, उन्होंने कहा कि, ’आप’ जैसी छोटी पार्टी अब जवान पार्टी हो गई है। इसकी स्थापना के अभी सिर्फ़ 10 साल हुए हैं और दो राज्यों में इसकी सरकार है। यह बहुत बड़ी और आश्चर्यजनक बात है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 − 12 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अदानी को बचाने कौन आया?
अदानी को बचाने कौन आया?