nayaindia Ashok Gehlot meeting MLAs गहलोत ने विधायकों के संग की बैठक
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| Ashok Gehlot meeting MLAs गहलोत ने विधायकों के संग की बैठक

गहलोत ने विधायकों के संग की बैठक

जयपुर। कांग्रेस अध्यक्ष पद का उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चाओं के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को देर रात पार्टी के विधायकों संग बैठक की। बताया जा रहा है कि बुधवार को दिल्ली रवाना होंगे और अगले एक हफ्ते तक उनका दिल्ली में रहने का कार्यक्रम है। यह भी बताया जा रहा है कि अगले सोमवार यानी 26 सितंबर को वे कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल कर सकते हैं। हालांकि गहलोत अब भी उम्मीद कर रहे हैं कि राहुल गांधी शायद अध्यक्ष बनने को राजी हो जाएं। एक दिन पहले ही राजस्थान कांग्रेस की ओर से राहुल को फिर से अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव पास करके भेजा गया था।

बहरहाल, माना जा रहा है कि अध्यक्ष पद का दावेदार बनाए जाने के बाद की स्थितियों को ध्यान मे ऱखते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने विधायकों की राय जानी। यह भी कहा जा रहा है कि अध्यक्ष बनने के बाद उनको मुख्यमंत्री पद छोड़ना होगा। उनकी जगह कौन लेगा इसको लेकर भी वे अपनी तैयारियां कर रहे हैं। इस बारे में भी उन्होंने विधायकों की राय जानी है, जिसके बारे में वे दिल्ली में पार्टी आलाकमान को जानकारी देंगे। पार्टी के उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी ने कहा कि सभी विधायक राज्यपाल के सम्मान में हुए समारोह के लिए एक जगह मौजूद रहेंगे इसलिए समय बचाने के लिए विधायक दल की बैठक बुला ली गई।

गौरतलब है कि 24 सितंबर से कांग्रेस अध्यक्ष के लिए नामांकन शुरू होगा और 30 सितंबर तक नामांकन की प्रक्रिया चलेगी। जरूरत पड़ने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा। संभावना है कि इस पद के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेता और तिरूवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर नामांकन दाखिल करेंगे। उन्होंने सोमवार की शाम को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी और उसके बाद बताया गया था कि सोनिया गांधी ने उनको चुनाव लड़ने की हरी झंडी दे दी है। अगर अशोक गहलोत और शशि थरूर चुनाव लड़ते हैं तो कांग्रेस अध्यक्ष के लिए 22 साल बाद चुनाव होगा। आखिरी बार नवंबर 2000 में सोनिया गांधी और जितेंद्र प्रसाद का मुकाबला हुआ था।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस विधायकों के साथ देर रात 10 बजे मीटिंग की। उससे पहले मुख्यमंत्री आवास में उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के सम्मान में भोज का आयोजन किया गया था। इसके बाद विधायकों की बैठक हुई। पहले से विधायकों को बैठक के एजेंडे के बारे में कुछ नहीं बताया गया था। बताया जा रहा है कि दिल्ली रवाना होने से पहले गहलोत ने विधायकों से विचार विमर्श किया ताकि वे पार्टी आलाकमान को फीडबैक दे सकें। कांग्रेस के जानकार सूत्रों के मुताबिक गहलोत पार्टी आलाकमान की पहली पसंद हैं लेकिन नामांकन से पहले वे एक बार फिर राहुल गांधी को मनाने का प्रयास करेंगे।

सोनिया से मिले वेणुगोपाल

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। वेणुगोपाल के गृह राज्य केरल में भारत जोड़ो यात्रा चल रही है। उस यात्रा के बीच में वे दिल्ली आए और कांग्रेस अध्यक्ष से मिले। बताया जा रहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष की ओर से उनको दिल्ली आने का मैसेज भेजा गया था। सोमवार की शाम को केरल की राजधानी तिरूवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर ने सोनिया गांधी से मुलाकात की थी और बताया जा रहा है कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लड़ने के बारे में बात की थी।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen + 18 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
आदिवासी कहें या वनवासी?
आदिवासी कहें या वनवासी?