Rajasthan: तो क्या अब राजस्थान में 'खेला' की तैयारी, कैबिनेट विस्तार में हुई देरी से से नाराज है पायलट खेमा - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

Rajasthan: तो क्या अब राजस्थान में ‘खेला’ की तैयारी, कैबिनेट विस्तार में हुई देरी से से नाराज है पायलट खेमा

जयपुर | राजस्थान में समय-समय पर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच का विवाद सामने आता रहा है. हालांकि अब तक कांग्रेस के आलाकमानो ने इस सियासी टशन को अपने खेमे तक ही सीमित रखा है. कैबिनेट विस्तार को लेकर अब राजस्थान के कुछ विधायकों के सब्र का बांध टूटता का जा रहा है. माना जा रहा है कि सचिन पायलट जमीनी स्तर पर अपनी सियासत मजबूत करने में जुटे हुए हैं. वहीं दूसरी ओर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी काफी सख्त नजर आ रहे हैं. सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार पंजाब की ही तरह राजस्थान में भी पायलट गुट के विधायक एक बार फिर से बगावत कर सकते हैं.

महीने के अंत तक नहीं हुआ कैबिनेट विस्तार तो बगावत

राजस्थान में लंबे समय से कैबिनेट विस्तार को लेकर सियासत गर्म है. मीडिया सूत्रों के अनुसार माना जा रहा है कि अगर इस महीने के अंत तक कैबिनेट का विस्तार नहीं किया गया तो संभवत: जुलाई के समय पायलट गुट के विधायक बगावत कर सकते हैं. राजस्थान की राजनीति को करीब से जानने वालों का कहना है कि सचिन पायलट डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष का पद में जाने के बाद से लगातार खुद को तैयार कर रहे हैं. जानकारों का कहना है कि पायलट राजस्थान के पूर्वी भाग और गुर्जर वोट बैंक को मजबूत करने में लगे हुए हैं.

इसे भी पढ़ें- Rajasthan: अजमेर दरगाह में चढ़ावा को लेकर फिर विवाद उभरा, पुलिस तक पहुंचा मामला

स्वास्थ्य और परिवाहन मंत्री ने पायलट से की थी मुलाकात

अशोक गहलोत सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और परिवहन मंत्री प्रताप सिंह ने हाल में ही सचिन पायलट से मुलाकात की है. इस मुलाकात के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं. कहा जा रहे है कि सचिन पायलट अपने पुराने नेताओं और साथियों को साधने में लगे हुए हैं. बता दें कि पिछले साल भी सचिन पायलट खेमे के विधायकों ने बगावत किया था और करीब डेढ़ दर्जन विधायक राजस्थान छोड़कर चले गए थे. उस समय भी कांग्रेस पार्टी के आलाकमानों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ था.

इसे भी पढ़ें- Breaking News: प्रधानमंत्री मोदी आज शाम 5 बजे करेंगे राष्ट्र को संबोधित, कोरोना गाइडलाइन पर कर सकते हैं बात

Latest News

UIDAI ने किया आधार कार्ड की प्रक्रिया में बदलाव, जानें पूरी प्रोसेस..
पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए किसी बायोमेट्रिक डिटेल की आवश्यकता नहीं होगी। 5 साल से कम आयु के…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});