nayaindia weather Rawat helicopter crash रावत के हेलीकॉप्टर हादसे का कारण खराब मौसम
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| weather Rawat helicopter crash रावत के हेलीकॉप्टर हादसे का कारण खराब मौसम

रावत के हेलीकॉप्टर हादसे का कारण खराब मौसम

नई दिल्ली। पूर्व सेना प्रमुख और देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर हादसे की जांच करने वाली तीनों सेनाओं की साझा कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी ने अपना प्रारंभिक निष्कर्ष सार्वजनिक कर दिया है। वायु सेना ने शुक्रवार को बताया कि खराब मौसम में पायलट के भटकाव की वजह से दुर्घटना हुई। तीनों सेनाओं की साझा जांच में इस हादसे के पीछे किसी तरह की साजिश होने की संभावना को खारिज कर दिया गया है। कुछ दिन पहले इसके प्रारंभिक निष्कर्ष रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को बताए गए थे।

शुक्रवार को भारतीय वायु सेना ने कहा कि आठ दिसंबर 2021 को हुई हेलीकॉप्टर दुर्घटना को लेकर तीनों सेनाओं की कोर्ट ऑफ इंक्वायरी ने अपनी प्रारंभिक निष्कर्ष रिपोर्ट सौंप दी है।  गौरतलब है कि इस हादसे में सीडीएस जनरल बिपिन रावत और 13 अन्य लोगों की मृत्यु हो गई थी। इस रिपोर्ट के मुताबिक- आठ दिसंबर को अप्रत्याशित ढंग से मौसम में बदलाव के कारण हेलीकॉप्टर बादलों में प्रवेश कर गया और इस वजह से हादसा हुआ। बादलों में फंसने के कारण पायलट का भटकाव हुआ। इस रिपोर्ट में हेलीकॉप्टर दुर्घटना के कारणों के रूप में यांत्रिक विफलता, तोड़फोड़, विध्वंस या लापरवाही को खारिज किया गया है।

Read also दुबई हवाईअड्डे पर बड़ा हादसा टला

जांच दल ने दुर्घटना के संभावित कारण का पता लगाने के लिए सभी उपलब्ध गवाहों से पूछताछ के अलावा फ्लाइट डाटा रिकॉर्डर और कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर का विश्लेषण किया। प्रारंभिक निष्‍कर्ष रिपोर्ट के अनुसार- दुर्घटना घाटी में मौसम में अप्रत्याशित बदलाव के कारण बादलों में प्रवेश के कारण हुई थी। इसकी वजह से पायलट अपने तयशुदा रास्तों से रास्ता भटक गया। अपने निष्कर्षों के आधार पर कोर्ट ऑफ इंक्वायरी ने कुछ सिफारिशें की हैं, जिनकी समीक्षा की जा रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

seven + 15 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
महिला क्रिकेट टीम कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल में
महिला क्रिकेट टीम कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल में